समस्तीपुर- लॉकडाउन का मत करिए इंतजार, खुद रहें सावधान

Advertisement

Samastipur News-समस्तीपुर। कोरोना तेजी से पांव पसार रहा है। संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने की सूचना आ रही है। ऐसे में जरा सी लापरवाही महंगी पड़ सकती है। अनियंत्रित भीड़ और बेपरवाही संक्रमण फैला सकती है। हमें अपनी जीवनशैली और दिनचर्या को नियंत्रित करने के लिए लाकडाउन का इंतजार नहीं करना चाहिए। खुद अनुशासित रहकर कोरोना संक्रमण से बच सकते हैं। कोरोना संक्रमण का प्रसार शुरू हो गया है। लेकिन अभी तक काफी संख्या में लोग बिना मास्क ही घूम रहे है। हर कोई इससे बचाव को लेकर सतर्कता बरत रहा है। ऐसे में नवजात शिशुओं की देखभाल की विशेष आवश्यकता है। कोरोना वायरस को लेकर नवजात की सेहत खराब होने पर चुनौतियां बढ़ सकती हैं। इस लिहाज से नवजात को बीमार होने से बचाने की भी अधिक जरूरत है ताकि लोगों को अपने नवजात को दिखाने के लिए अस्पताल जाने की नौबत नहीं आए।

कोरोना काल में नवजात बच्चों का रखें खास ख्याल :

Advertisement

सदर अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डा. राजेश कुमार ने बताया कि शिशु के लिए स्तनपान अमृत समान होता है। छह माह तक केवल स्तनपान करने से शिशु कई गंभीर बीमारियों जैसे डायरिया एवं निमोनिया से बचा रहता है। साथ ही इससे शिशु के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का भी विकास होता है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए नवजात देखभाल की जरूरत अधिक बढ़ जाती है। इसके लिए परिवार वालों को सावधानियां बरतने की जरूरत है। ताकि नवजात को कोई भी संक्रमण ना हो सके। उन्होंने बताया कि इसके लिए जरूरी है कि नवजात की घर पर ही अच्छे से देखभाल की जाए। इसमें स्तनपान के साथ कंगारू मदर केयर एक प्रभावी उपाय हो सकता है। इससे नवजात में हाइपोथर्मिया की समस्या से निजात मिलेगा एवं कम वजन के बच्चों के वजन में भी वृद्धि होगी। इन बातों का रखें विशेष ख्याल

  • अधिक से अधिक बार बच्चे को स्तनपान कराएं।
  • स्तनपान कराने से पहले माताएं अपनी स्वच्छता का ख्याल रखें।
  • हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोकर एवं साफ कपडे पहनकर ही बच्चे को स्तनपान कराएं।
  • घर के किसी सदस्य में सर्दी, खांसी या बुखार के लक्षण हों तो बच्चे को स्पर्श ना करें।
  • नवजात को गर्मी के कारण स्नान नहीं कराएं।
  • बच्चे को साफ कपड़ा पहनाएं व घर से बाहर न ले जाएं।

input- Source Link

Advertisement
Advertisement