CDS बिपिन रावत की सलामती के लिए धारी मंदिर में पूजा-अर्चना शुरू

Advertisement

सीडीएस बिपिन रावत को ले जा रहे हेलिकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया गया. इसके बाद घायल हुए लोगों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया. इस हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनके शव बरामद किए गए हैं.

2015 में हुई हेलीकॉप्टर दुर्घटना में बाल-बाल बचे थे जनरल बिपिन रावत

Advertisement

जनरल बिपिन रावत करीब छह साल पहले भी एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में बाल-बाल बचे थे. रावत 3 फरवरी 2015 को नगालैंड के दीमापुर में दुर्घटनाग्रस्त हुए चीता हेलीकॉप्टर में सवार थे. वह उस समय लेफ्टिनेंट जनरल थे. मालूम हो कि आज तमिलनाडु के कुन्नूर में भारतीय वायुसेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया है जिसमें CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 14 लोग सवार थे. हादसे में 13 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई है.

CDS बिपिन रावत अस्पताल में भर्ती कराए गए, नाजुक बनी हुई है हालत: ताजा रिपोर्ट में दावा

Advertisement

ताजा रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि घटनास्थल से सीडीएस जनरल बिपिन रावत को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ वेलिंगटन में डिफेंस स्टाफ कॉलेज जा रहे थे. तमिलनाडु के कुन्नूर में क्रैश हुए भारतीय वायुसेना हेलिकॉप्टर में CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 14 लोग सवार थे. हादसे के फौरन बाद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है.

Advertisement

Advertisement