बिहार में दो और नेशनल हाइवे को मिली स्‍वीकृति; हाजीपुर, बेगूसराय, दरभंगा और समस्‍तीपुर जिलों को होगा फायदा

Advertisement

बिहार में नेशनल हाइवे का जाल बढ़ता ही जा रहा है। राज्‍य और केंद्र सरकार के बीच तालमेल का फायदा लगातार मिल रहा है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने राज्‍य में राष्ट्रीय उच्च पथ (एनएच) की दो और योजनाओं को स्वीकृति प्रदान की है। पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने सोमवार को इस आशय की जानकारी दी। जिन योजनाओं को अनुमति दी गई है उनमें एक एनएच-122 बी और दूसरी एनएच 527 ई है। एनएच 527 ई दरभंगा से रोसड़ा के बीच है। इसके निर्माण पर 495 करोड़ रुपए खर्च होंगे और दूसरी सड़क 122 बी हाजीपुर-महनार-बछवाड़ा है। इसके निर्माण पर 470 करोड़ रुपए खर्च होंगे। पथ निर्माण मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही इन दोनों सड़कों की निविदा होगी।

हाजीपुर में महात्‍मा गांधी सेतु से शुरू होगा एनएच 122 बी

Advertisement

पथ निर्माण मंत्री ने यह जानकारी दी कि एनएच 122 बी नवघोषित राष्ट्रीय उच्च पथ है। हाजीपुर में महात्मा गांधी सेतु के समीप से निकलकर यह पुराने एनएच-28 पर बछवाड़ा के समीप मिलेगी। इस सड़क का निर्माण दो लेन में होना है। पटना से बरौनी के बीच यह वैकल्पिक मार्ग होगा। एनएच 527 ई भी नवघोषित एनएच है। यह हजमा चौक, लहेरियासराय से समस्तीपुर जिला होते हुए रोसड़ा को आमस-दरभंगा पथ से जोड़ेगी। इसके निर्माण से दरभंगा से रोसड़ा जाने में सहजता हो जाएगी। उत्तर बिहार को दक्षिण बिहार से जोडऩे की एक अलग संपर्कता भी मिलेगी।

फोटो- प्रतीकात्मक

Advertisement
Advertisement