हे भगवान! न खेलो ऐसा पबजी: बेटे ने अपने हाथ-पैर बांधे, मुंह पर चिपकाया टैप, घरवालों को तस्वीर भेज कहा- बचा लो

Advertisement

एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां 19 साल के लड़के ने अपने ही किडनैपिंग की झूठी कहानी रच डाली। खुद के कपड़े उतारे, हाथ-पैर रस्सी से बांधे, मुंह पर टेप चिपकाया और तस्वीर लेकर घरवालों को भेज दिया। इसके साथ मैसेज दिया कि तुम्हारा बेटा मेरे कब्जे में है, उसे जिंदा देखना है तो 4 लाख रुपए भेज दो। परिजन को 11 दिसंबर को ये ऑडियो कॉल आया तो सब घबरा गए। पुलिस से मदद मांगी और साइबर सेल की मदद से युवक को बिलासपुर के एक होटल में ट्रेस किया। यहां वह एक कमरे में आराम फरमाते मिला। पुलिस ने लड़के के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है.

Advertisement

सरगुजा जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि शंकरघाट सोनपुर कला निवासी वंश उर्फ वासु विश्वकर्मा (19 साल) बीते 10 दिसंबर की सुबह 9 बजे घर से निकला था। इसके बाद वह वापस नहीं लौटा। दूसरे दिन घर वालों को उसके किडनैप होने का कॉल आता है। परिजन ने पुलिस से शिकायत की। इसके बाद पुलिस ने मामले को शुरुआत में अपहरण और फिरौती का केस समझा और जांच टीमों को एक्टिव कर दिया। पुलिस का कहना था कि मामले में नया मोड़ तब आया जब युवक का एक वीडियो परिजन के मोबाइल में मिला, जिसमें उसका हाथ-पैर बंधा अर्ध नग्न वीडियो था। परिजन से युवक के बदले 4 लाख रुपए की मांग वीडियो में की जा रही थी। इस लड़के ने बेहद शातिर ढंग से किडनैप होने की फिल्मी कहानी रची थी, मगर एक गलती कर बैठा। उसने अपने घर वालों को खुद के फोन से ही कॉल किया। पुलिस ने युवक का फोन ट्रेस किया और लोकेशन बिलासपुर के सिविल लाइन इलाके में मिली। इसके बाद पुलिस ने सिविल लाइन इलाके के एक होटल में दबिश दी। यहां एक कमरे में वंश बड़े ठाठ-बाट से आराम फरमा रहा था और घरवालों को धमकी भरे फोन कॉल कर रहा था। वंश घर से 15 हजार रुपए लेकर भागा था, इन्हीं रुपयों से होटल में ऐश कर रहा था।

घटना के पीछे पबजी गेम

Advertisement

इस फिल्मी किडनैपिंग के पीछे ऑनलाइन गेम पबजी की लत सामने आई। परिजन ने पुलिस को बताया था कि इससे पहले पब्जी गेम के चक्कर में युवक अपनी पल्स बाइक भी 30 हजार रुपए में बेच चुका है। गेम में काफी पैसा हारने के बाद घर से 15 हजार रुपए लेकर भाग गया था। जब युवक को होटल से पकड़ा गया और पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह पब्जी गेम पर 4 लाख लगाकर 1 करोड़ रुपए जीतने का सपना देख रहा था। 4 लाख रुपए की जरूरत थी इसीलिए खुद की किडनैपिंग की कहानी बनाई और फिरौती की डिमांड कर डाली। पुलिस ने इस युवक को पकड़कर अंबिकापुर भेजा और घरवालों के हवाले किया। अब फर्जी मामला बताकर पुलिस को उलझाने की वजह से युवक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement

Advertisement