तय हो गई ‘सिंघम’ के आने की तारीख, मुंबई से सीधे पहले पटना आएंगे IPS शिवदीप लांडे

Advertisement

2006 बैच के आईपीएस अधिकारी शिवदीप लांडे बिहार आने वाले हैं. बिहार में शिवदीप लांडे उन गिने चुने आईपीएस अफसरों में से हैं जिन्हें लोग उनके नाम से ही पहचानते हैं. उन्हें उनकी कार्यशैली के लिए जाना जाता है. अपराधियों के बीच उनके नाम का खौफ है. लड़कियां भी इनकी फैन हैं. बिहार आने से पहले शिवदीप लांडे ने भोजपुरी में दो शब्द बोलकर यहां के लोगों का दिल जीत लिया है. यह तय हो गया है कि शिवदीप लांडे सात दिसंबर को बिहार आ रहे हैं. वे सीधे मुंबई से पटना आएंगे.

शिवदीप लांडे ने खुद सोशल मीडिया पर बिहार आने को लेकर जानकारी दी है. उन्होंने लिखा था, “आज महाराष्ट्र में मेरे कार्यकाल के पांच साल पूरे हुए और बतौर डीआईजी (एंटी टेररिज्म स्क्वॉड, एटीएस मुंबई) के रूप में मैंने अपना कार्यभार सौंप दिया. मैं अब ‘हमार बिहार’ में सेवा देने को वापस आ रहा हूं.” शिवदीप लांडे पटना में सिटी एसपी रहने के अलावा अररिया और रोहतास में पुलिस अधीक्षक रह चुके हैं.

Advertisement

क्या जिम्मेदारी होगी अभी तय नहीं

पटना में सिटी एसपी रहने के दौरान शिवदीप लांडे ने ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर फर्जीवाड़ा करने वालों के खिलाफ, जाली नोट छापने वालों, नकली दवा बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर तहलका मचा दिया था. एक बार जब व्यवसायी की हत्या के बाद दुकानें बंद थीं, तब उन्होंने अपराधी को बीच सड़क पर पकड़ कर पीटा था. इसके बाद इलाके की सारी दुकानें खुल गई थी. अब पांच साल बाद शराबबंदी कानून को लेकर जारी उथल पुथल के बीच बिहार वापस लौट रहे आईपीएस शिवदीप लांडे को सरकार क्या जिम्मेदारी सौंपेगी, इस पर सबकी नजरें टिकी हुई हैं. मूल रूप से महाराष्ट्र के रहने वाले शिवदीप वामन राव लांडे की बिहार वापसी को लेकर लोगों में खुशी है.

Advertisement

Source : ABP News

Advertisement

Advertisement