50 का दूल्हा, 30 की दुल्हन ने की शादी, बिहार के औरंगाबाद में अजीब लव स्टोरी, देखने उमड़ी भीड़

Advertisement

औरंगाबाद में एक शादी इन दिनों खूब चर्चा में हैं। इस शादी में दूल्हे की उम्र 50 साल और दुल्हन 30 साल है। दोनों ने लव मैरिज की है। ये शादी हसपुरा‎ प्रखंड के सूर्य मंदिर में हुई। दूल्हा-दुल्हा को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट पड़ी। दोनों की जाति अलग-अलग है। पर लोगों को मनाकर दोनों ने शादी कर ली। इस दौरान दूल्हा गाजे-बाजे के साथ बारात लेकर मंदिर पहुंचा था।

प्रेम विवाह की यह कहानी है गोह प्रखंड के‎ रूकुंदी गांव निवासी अधेड़‎ शिवबरत पासवान (50) और गया जिले के शेरघाटी की रहने वाली राममणि देवी (30) की। शिवबरत पासवान की‎ पत्नी की मौत हो चुकी है। जबकि‎ महिला का पति भी इस दुनिया में नहीं है।‎ दोनों हसपुरा प्रखंड के तेतराही गांव‎ ‎निवासी उपेन्द्र सिंह के यहां‎ मजदूरी करते हैं। मजदूरी‎ करते-करते दोनों की दोस्ती हुई‎ और दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों छुपकर एक दूसरे से‎ मिलने-जुलने लगे और फिर शादी‎ करने का फैसला किया।

Advertisement

दोनों ने‎ सारी सच्चाई अपने मालिक उपेन्द्र‎ सिंह उर्फ पाव और तेतराही निवासी‎ गोवर्धन पासवान को बताई। पहले‎ तो दोनों के जाति अलग-अलग‎ रहने के कारण परेशानी आई।‎ लेकिन फिर लोग मान गए। हसपुरा के लोग बराती बनकर तो वहीं तेतराही गांव के लोग लड़की पक्ष से सामने आए और हसपुरा छठी आहार स्थित सूर्य मंदिर में दोनों की धूमधाम से शादी रचाई गई। शादी के बाद महिला राम मणि देवी ने कहा कि वो इस शादी से खुश हैं।

Advertisement

Advertisement