बेटों ने किया परेशान तो बुजुर्ग पिता ने जिलाधिकारी के नाम कर दी दो करोड़ की संपत्ति

Advertisement

आगरा: ताजनगरी से एक अजीबोगरीब मामला सामने आ रहा है. यहां के रहने वाले एक बुजुर्ग ने अपनी सारी प्रॉपर्टी आगरा के डीएम के नाम कर दी है. बुजुर्ग व्यक्ति ने वसीयत की कॉपी भी आगरा सिटी मजिस्ट्रेट को सुपुर्द कर दी है. जानकारी के मुताबिक, यह संपत्ति करीब 2 करोड़ रुपये की है. बताया जा रहा है कि बुजुर्ग पेशे से मसाला व्यापारी हैं और अपने बड़े बेटे से बहुत परेशान रहते हैं. उनका कहना है कि काफी सोचने-समझने के बाद उन्होंने यह कदम उठाया है.

बेटा लगातार कर रहा था एक चौथाई हिस्से की मांग

Advertisement

मामला आगरा के पीपल मंडी निरालाबाद का है. यहां के निवासी गणेश शंकर पाण्डेय ने करीब 225 वर्ग गज की प्रॉपर्टी आगरा डीएम के नाम लिखवा दी है. बुजुर्ग ने मीडिया को बताया है कि घर में किसी चीज की कमी नहीं है. सब आराम से चल रहा है. उनका बड़ा बेटा दिग्विजय, बहू और दो पोते-पोती उनके साथ ही रहते हैं. लेकिन, कुछ समय से दिग्विजय उनसे लगातार संपत्ति के एक चौथाई हिस्से की मांग कर रहा है. उनकी परेशानी का सबसे बड़ा कारण यही है.

बेटे को समझाने में हुए नाकामयाब

Advertisement

बुजुर्ग का कहना है कि उन्होंने कई बार कोशिश की कि दिग्विजय को धंधे पर बैठाया जाए या उसे समझाया जाए. लेकिन वह सुनने को तैयार ही नहीं है. संपत्ति के लिए लगातार वह अपने पिता को परेशान करता है. इसी उलझन में बुजुर्ग गणेश शंकर पाण्डेय ने जिलाधिकारी को ही सारी संपत्ति दे दी.

रजिस्टर्ड विल लेकर पहुंचे थे मजिस्ट्रेट के पास

Advertisement

वहीं, सिटी मजिस्ट्रेट का कहना है कि बीते गुरुवार को ही उनके पास एक बुजुर्ग आए थे, जो पीपल मंडी निरालाबाद के रहने वाले हैं. उन्होंने अपने बेटे से परेशान होने की बात कहकर अपनी पूरी प्रॉपर्टी जिलाधिकारी के नाम लिखवा दी है. इसके लिए वह रजिस्टर्ड वसीयतनामा भी लाए थे. मजिस्ट्रेट ने उनसे प्रॉपर्टी के सारे पेपर ले लिए हैं.

Advertisement

Advertisement