लड्डू गोपाल का टूटा हाथ जुड़वाने पुजारी रोते हुए पहुंचा अस्पताल, आस्था और जिद पर डॉक्टर ने किया प्लास्टर

Advertisement

जिला अस्पताल में एक अलग ही नजारा देखने को मिला. आस्था से जुड़ा मामला वाकई चौंकाने वाला था. हुआ यूं कि एक पुजारी सुबह-सुबह लड्डू गोपाल जी की मूर्ति को लेकर जिला अस्पताल में पहुंचा और वहां डॉक्टरों से बोला कि वह इस मूर्ति को इलाज के लिए अस्पताल में लेकर आया है और आप इसे जल्दी से अपने अस्पताल में एडमिट कर इसका इलाज शुरू कर दो.

आस्था की पराकाष्ठा यह थी कि पुजारी ने लड्डू गोपाल जी के नाम का जिला अस्पताल से पर्चा भी कटवा लिया. बात पूरे अस्पताल में आग की तरह फैल गई और देखते ही देखते सैकड़ों की भीड़ पुजारी के साथ उस लड्डू गोपाल जी को देखने के लिए आतुर होने लगी. पुजारी की जिद पर सीएमएस के.के. अग्रवाल ने लड्डू गोपाल की मूर्ति का इलाज किया.

Advertisement

आगरा जिला अस्पताल की सीएमएस के.के अग्रवाल का कहना था कि एक पुजारी लड्डू गोपाल को लेकर आए थे. अष्टधातु की लड्डू गोपाल के उनके हाथ टूट गया था. आस्था का विषय और जिद करने पर उन्होंने उनके हाथ की पट्टी की है, जिससे उनका टूटा हुआ है, ठीक हो सके.

अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय जाट का कहना था कि जब यह जानकारी हुई तो संगठन के लोग वहां पहुंचे. पुजारी से वार्ता की और फिर लड्डू गोपाल के हाथ पैरों में प्लास्टर किया. इसके बाद पुजारी को लड्डू गोपाल से फिर घर भेज दिया.

Advertisement
Advertisement