अवैध रूप से देशी शराब बिक्री,विजेता एवं प्रत्याशी शराब बांटते पाए जाने की सूचना मिलने पर विशेष नजर रखने का निर्देश

Advertisement

आज दिनांक 5 नवंबर 2021 को जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर की संयुक्त अध्यक्षता में अवैध रूप से देशी शराब/चूलाई के निर्माण/बिक्री से संबंधित विषय पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निम्नलिखित निर्देश दिए गए:

Advertisement
  1. पंचायत आम चुनाव के मद्देनजर अवैध शराब की मांग/ बिक्री एवं निर्माण कार्य काफी बढ़ने की संभावना है। अतः सभी थाना प्रभारी को निर्देश दिया गया कि विशेष अभियान चलाकर सभी प्रखंडों के सभी पंचायतों में छापामारी करना सुनिश्चित करेंगे।
  2. छापेमारी के क्रम में जहां भी अवैध शराब या चूलाई का निर्माण कार्य किया जा रहा हो, उसकी वीडियोग्राफी कराने का निर्देश दिया गया एवं आवश्यक धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।
  3. दियारा वाले क्षेत्रों में डॉग स्क्वायड के सहायता से छापामारी करने का निर्देश दिया गया।
  4. पंचायत चुनाव और पर्व का समय है, विजेता प्रत्याशी, एवं अन्य द्वारा शराब बांटते पाए जाने की सूचना मिलने पर विशेष नजर रखने का निर्देश दिया गया।
  5. जिन प्रखंडों में चुनाव होना है, वहां विशेष चौकसी एवं विशेष अलर्ट की आवश्यकता है। अतः समय-समय पर गांव में घूम कर छापामारी करने का निर्देश सभी थाना प्रभारी को दिया गया।
  6. सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिया गया कि चौकीदार के माध्यम से गांव में सघन चेकिंग करवा कर गांव में अवैध शराब निर्माण कर रहे लोगों का पता लगाएंगे एवं चौकीदार के रजिस्टर संधारण को ससमय चेक करवाते रहेंगे।
  7. सभी ग्रामों में *चौकीदारी पैरेड नियमित रूप से करवाते रहने का निर्देश सभी थाना प्रभारियों को दिया गया।
  8. निर्देश दिया गया कि बेल पर जो लोग हैं एवं जो शराब निर्माण कार्य में जेल जाने वालों के बेलर हैं, उन पर विशेष नजर रखने की आवश्यकता है।
  9. निर्देश दिया गया कि वैसे व्यवसाई होम्योपैथ के थोक व्यवसाई हैं, उन पर विशेष नजर रखने की आवश्यकता है। सभी थाना स्तर से समय-समय पर जांच करते रहेंगे।

बैठक में अपर समाहर्ता, अधीक्षक मध्य निषेध एवं उत्पाद, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी अनुमंडल पदाधिकारी,सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, जिला कल्याण पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी ,सभी अंचलाधिकारी, सभी थाना प्रभारी एवं सभी प्रखंड कल्याण पदाधिकारी उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement