अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में बिहार को मिला गोल्ड मेडल, शाहनवाज हुसैन बोले- ‘उद्योग में भी बनेगा नंबर वन’

Advertisement

दिल्ली में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय मेला में बिहार का परचम लहराया है. बिहार को गोल्ड मेडल मिला है. बिहार पवेलियन के लिए इसे गोल्ड मेडल मिला है. बिहार को गोल्ड मेडल मिलने पर सूबे के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि इसी तरह उद्योग के क्षेत्र में भी बिहार नंबर बनेगा.

दिल्ली से मिल रही जानकारी के अनुसार, दिल्ली में 40वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (IITF) का पिछले सप्ताह उद्घाटन किया गया. इसमें बने पवेलियन को आज शनिवार को गोल्ड मेडल मिला है. बिहार की तरफ से ये पुरस्कार रेजिडेंट कमिश्नर पलका साहनी और उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान के निदेशक अशोक सिन्हा ने प्राप्त किया.

Advertisement

इस पर उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने खुशी जाहिर ​की. उन्होंने कहा कि बिहार उद्योग में भी नंबर वन बनेगा. उन्होंने कहा कि हर मोर्चे पर बिहार आगे बढ़ रहा है. बिहार के हस्तशिल्पियों और बुनकरों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ये बहुत बड़ा सम्मान मिला है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राज्य के पारंपरिक उद्योगों से लेकर हर तरह के उद्योगों का सर्वांगीण विकास हो रहा है. देश के कई राज्यों और दूसरे देशों की भी प्रदर्शनी के बीच गोल्ड हासिल कर नंबर 1 बनना बिहार के लिए बड़ी बात है. ये सभी राज्यवासियों के लिए गौरव का विषय है. उन्होंने कहा कि बिहार में डबल इंजन की सरकार है और जिद है कि हर मोर्चे पर सफलता हासिल करनी है.

बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार की लोककलाकृतियों ने हमेशा राज्य को गौरवांवित किया है. बिहार के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले कारीगरों, बुनकरों के हुनर को देश विदेश में पहचान मिल रही है, इससे बिहार के ग्रामीण इलाकों के लोगों के आगे बढ़ने के लिए और नई संभावनाएं पैदा होंगी. उन्होंने कहा कि बिहार पैवेलियन ने अंतर्राष्ट्रीय मंच पर बिहार के आत्मनिर्भर गांव की तस्वीर पेश की है और आत्मनिर्भर गांव के जरिए कैसे आत्मनिर्भर बिहार का लक्ष्य हासिल हो सकता है, उसकी मिसाल पेश की है.

Advertisement

गौरतलब है कि दिल्ली में 14 नंवबर से 27 नंवबर तक चलने वाले 40वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में बिहार ने अपने पैवेलियन को 41 स्टॉल्स से सजाए, जिसमें बिहार के पारंपरिक लोक कला संस्कृति की झलक पेश करने वाले बेहतरीन उत्पाद देखने में मिले. बिहार पेवैलियन में सुप्रसिद्ध लोक कलाकार पद्मश्री दुलारी देवी की मधुबनी पेंटिंग और उनके द्वारा दी जाने वाली मधुबनी पेंटिग की जीवंत प्रदर्शनी आकर्षण का केंद्र रहीं तो बिहार के अन्य हिस्सों में बनने वाली लोक कलाकृतियां और बिहार के पारंपरिक उद्योगों द्वारा निर्मित चीजें लोगों को खूब पंसद आई.

Input- Rakesh Thakur

Advertisement
Advertisement