बिहार: मुजफ्फरपुर की दिव्यांग महिला बनी जिला पार्षद, मसाला बेचकर करती हैं गुजारा

Advertisement

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक दिव्यांग महिला ने जिला परिषद सदस्य के लिए 10 हजार मतों से जीत हासिल की. महिला का पति भी दिव्यांग है और इनके तीन बच्चे हैं. इस शानदार जीत के बाद यह दंपति पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है. जिला परिषद क्षेत्र संख्या-20 से एक दिव्यांग महिला को कामयाबी मिली है. कांटी प्रखंड के लग्सरीपुर पंचायत के मिठनसराय माधोपुर की रहने वाली मीणा देवी ने सफलता हासिल की.

दिव्यांग महिला ने जीता पंचायत चुनाव

Advertisement

मीना देवी के पति उमेश भी दोनो पैरों से दिव्यांग है और गांव- गांव घूम कर स्कूटर से मसाले बेचते हैं. इस काम में उनकी पत्नी मदद करती हैं. अपनी शानदार जीत पर मीना देवी का कहना है कि वो घर साथ साथ जनता की सेवा की करेंगी. वही उमेश ने बाताया कि उनके मन में पत्नी को चुनाव लड़ाने की इच्छा हुई फिर जनता के बीच गए और लोगों ने उन्हें चुनाव लड़ाने के लिए उत्साहित किया.

मसाला बेचकर घर का गुजारा

Advertisement

नव निर्वाचित जिला परिषद मिना देवी का कहना है कि वो जैसे मजबूती के साथ अपने घर को चलाती हैं वैसे ही जनता की सेवा करेंगी. वो बाढ़ पीड़ितों के लिए काम करेंगी और गांव में पक्की सड़क बनवाएंगी. जिससे लोगों की दिक्कतें कम हो सकें. गांव में बरसात के समय पानी भर जाता है जिसकी वजह से बीमारियां होती हैं. ऐसे पक्की सड़क बनने से ग्रामीणों का फायदा होगा.

गांव में बनाएंगी पक्की सड़क

Advertisement

मीना चाहती है कि जैसे लोगों ने उन्हें चुनाव में जीत दिलवाई है वैसे वो लोगों के भरोसे पर खरी उतरें. लोगों की समस्या का समाधान कर सकें. मीना और उनका परिवार इस जीत से बेहद खुश हैं.

Advertisement

Advertisement