स्‍कूल ड्रेस के लिए मिले सरकारी पैसों से छात्रों ने शुरू किया शराब का अवैध धंधा, बिहार में करने लगे तस्‍करी

Advertisement

झारखंड के दुमका जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. हंसडीहा थाना पुलिस ने अवैध शराब के साथ 3 छात्रों को पकड़ा है. तीनों झारखंड से शराब ले जाकर बिहार में बेचते थे. आरोप है कि तीनों स्‍कूली छात्र स्कूल से यूनिफॉर्म के लिए मिले सरकारी पैसों से अवैध शराब का कारोबार करने लगे थे. तीनों छात्रों पर शराब की तस्करी करने का भी आरोप है. तीनों आरोपी बिहार के रहने वाले हैं.

बता दें कि बिहार में शराबबंदी लागू है, लेकिन चोरी-छिपे इसकी बिक्री भी धड़ल्ले से जारी है. अब स्कूली छात्र भी अवैध शराब के धंधे में कूद गए हैं. छात्रों ने अवैध शराब को कमाई का आसान जरिया मान लिया है. पुलिस ने ऐसे ही एक मामले का खुलासा किया है. दुमका की हंसडीहा पुलिस ने तीन छात्रों को बिहार के सीमाई इलाके से पकड़ा है. उनके पास से बड़ी मात्रा में अंग्रेजी शराब बरामद की गई है. बताया जाता है कि गिरफ्तार तीनों छात्र स्कूल में पढ़ते हैं.

Advertisement

स्‍कूल ड्रेस के लिए सरकार ने दिया था पैसा

जानकारी के अनुसार, सरकार की ओर से इन स्कूली छात्रों को यूनिफॉर्म के लिए पैसा दिया गया था. आरोपी छात्रों ने स्‍कूल ड्रेस के लिए मिले पैसे और छात्रवृत्ति में मिले रुपयों से शराब का धंधा शुरू कर दिया था. ये लोग कई बार शराब बेच चुके थे. दुमका पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि दुमका से भागलपुर जाने वाली श्रीहरि बस से तीन स्‍कूली छात्र शराब लेकर भागलपुर जा रहे हैं.

Advertisement

सूचना के आधार पर झारखंड-बिहार की सीमा पर स्थित महादेवगढ़ चेकपोस्ट पर पुलिस ने वाहन चेकिंग अभियान चलाया. जब बस चेकपोस्ट पर पहुंची तो पुलिस टीम बस की जांच करने लगी. पुलिस ने देखा कि पिछली सीट पर तीन लड़के एक बैग लेकर बैठे हुए हैं. पुलिस ने जब बैग खोला तो उसमें लगभग तीन दर्जन अंग्रेजी शराब की बोतल मिली. तीनों छात्र भागलपुर जिले के इस्माइलपुर थाना के छोटी पर्वता गांव के रहने वाले हैं

मुंहमांगी कीमत पर बेचते थे शराब

Advertisement

तीनों आरोपी छात्र की पहचान संजीव कुमार, निलेश कुमार और प्रीतम कुमार के तौर पर की गई है. तीनों छात्रों ने पुलिस को बताया कि स्‍कूल की ओर से यूनिफॉर्म के लिए छह-छह हजार रुपये मिले थे. इसी पैसे को अवैध शराब के कारोबार में लगाया और तस्करी शुरू कर दी. तीनों ने बताया कि वह कई खेप शराब भागलपुर ले जाकर मुंहमांगी कीमत पर बेच चुका है. इससे अच्छी आमदनी हुई. पुलिस ने दुमका उत्पाद विभाग के अधिकारियों को तीनों छात्रों को शराब के साथ सौंप दिया है. उत्पाद विभाग आगे की कार्रवाई में जुट गया है.

Source- News 18

Advertisement
Advertisement