खुशखबरी: पटना चिड़‍ियाघर में आज से नहीं लगेगा प्रवेश शुल्‍क

Advertisement

वन्‍यप्राणी सप्‍ताह के अवसर पर पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान में लोगों को मुफ्त प्रवेश मिलेगा। दो से आठ अक्‍टूबर तक संजय गांधी जैविक उद्यान में लोगों को प्रवेश शुल्‍क नहीं देना होगा। ये बातें राज्‍य सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहीं। वे गांधी जयंती एवं वन्‍य प्राणी सप्‍ताह के अवसर पर बोल रहे थे। इससे पूर्व उन्‍होंने हरी झंडी दिखाकर दौड़ प्रतियोगिता की शुरुआत की।

आजादी के अमृत महोत्‍सव पर कई आयोजन

Advertisement

संजय गांधी जैविक उद्यान के निदेशक ने बताया कि आजादी के अमृत महोत्‍सव के अवसर पर बिहार म्‍यूजियम के साथ संजय गांधी जैविक उद्यान की ओर से वन्‍यप्राणी सप्‍ताह का आयोजन किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि मानव, पर्यावरण एवं वन्‍यजीव एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। पर्यावरण की रक्षा से ही मानव की रक्षा होगी। पर्यावरण को स्‍वच्‍छ रखना जरूरी है। वन्‍यजीवों का इसमें अहम रोल है। इसी को समझाने के लिए हमारे देश में दो से आठ अक्‍टूबर तक वन्‍यप्राणी सप्‍ताह का आयोजन किया जाता है।

दत्‍तकग्राही एजेंसियों को किया जाएगा सम्‍मानित

Advertisement

निदेशक ने बताया कि सप्‍ताह के दौरान चि‍ड़‍ियाघर की वन्‍यप्राणी दत्‍तक ग्रहण योजना के तहत दत्‍तकग्राही एजेंसियों को सम्‍‍मानित किया जाएगा। सप्‍ताह भर में कई कार्यक्रम आयोजित कि‍ए जाएंगे। इसकी शुरुआत गांधी जयंती के अवसर पर अमृत महोत्‍सव दौड़ से हुई। इसके अगले दिन तीन अक्‍टूबर को स्‍कूली बच्‍चों के लिए वन्‍यजीव पर आधारि‍त चित्रकारी एवं क्विज का आयोजन किया जाएगा। चार अक्‍टूबर को चिड़‍ियाघर के कर्मियों के बीच कार्यक्रम का आयोजन होगा।

स्‍कूली बच्‍चों के बीच होगी वाद-विवाद प्रतियोगिता

Advertisement

निदेशक ने बताया कि पांच अक्‍टूबर को फोटोग्राफी प्रतियोगिता होगी। स्‍कूली बच्‍चों के बीच वाद-विवाद प्रतियोगिता के साथ ही विशेषज्ञों के साथ वार्ता का आयोजन होगा। वहीं छह अक्‍टूबर को बर्ड वाचिंग, ओपन एयर क्विज होगा। सात अक्‍टूबर को स्‍कूली बच्‍चों के बीच निबंध प्रतियोगिता होगी। आठ अक्‍टूबर को आर्थिक रूप से कमजोर बच्‍चों के लिए निःशुल्‍क जू भ्रमण, पुरस्‍कार वितरण एवं समापन समारोह होगा।

बताया गया कि इस दौरान चिड़‍ियाघर में प्रवेश करने का शुल्‍क नहीं लगेगा। हालांकि वाहनों की पार्किंग के लिए शुल्‍क देना होगा।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

Advertisement

Advertisement