प्रेमिका से मिलने 17 किमी साइकिल चलाकर पहुंच जाता था युवक, गांववालों ने पकड़ा और लगवा दिए 7 फेरे

रामनगर थाना क्षेत्र एक अनोखी प्रेम कहानी और उसके बाद शादी का एक मामला चर्चा में है. इस प्रेम कहानी का नायक 17 किमी हर रोज साइकिल चलाकर प्रेमिका से मिलने जाता था. कहानी में ट्विस्ट भी था. घरवाले विरोध भी करते थे. प्रेम प्रसंग को लेकर पंचायती भी हुई, लेकिन दोनों के सिर से इश्क का जुनून नहीं उतरा तो ग्रामीणों ने अंत में आशिक और माशूका को हमेशा के लिए एक कर दिया. पूरा मामला रामनगर थाना क्षेत्र स्थित सपही पंचायत के सपही भावलगोल बाजार का है.

प्रेम कहानी का आगाज कुछ यूं होता है कि तीन साल पहले एक विवाह समारोह में एक बबलू कुमार नाम का लड़का और मंजू कुमारी नाम की लड़की एक रिश्तेदार के यहां पहली बार मिले. उस समय लड़की की उम्र 17 साल और लड़के की उम्र 18 साल थी. पहले दोनों में मोबाइल से बातचीत शुरू हुई. इन 3 सालों में प्यार इतना गहरा हो गया कि दोनों एक साथ जीने मरने की कसमें खाने लगे. धीरे-धीरे प्यार परवान चढ़ने लगा.

प्रेमी युगल पहले तो मोबाइल से बात करते थे, लेकिन धीरे-धरे दोनों गांव के नजदीक मिलने लगे. लड़का और लड़की के घर की दूरी लगभग 17 किलोमीटर है. आए दिन लड़का साइकिल से 17 किलोमीटर दूरी तय कर लड़की के घर के आसपास पहुंच जाता था. इस बात की खबर जब लड़की के घरवालों को चली तो वे आपा से बाहर हो गए.गांव के लोगों ने और लड़की के घरवालों ने एक दिन लड़के को पकड़ कर समझा बुझा और वार्निंग देकर छोड़ दिया, लेकिन उसके बाद भी यह सिलसिला चलता रहा.