समस्तीपुर-मतदान वाले क्षेत्रों में नाका लगाना, पुलिस चेकिंग कराने का निर्देश दिया गया।

Advertisement

पंचायत आम निर्वाचन 2021 की तैयारियों के मद्देनजर आयुक्त दरभंगा प्रमंडल, दरभंगा एवं पुलिस महानिरीक्षक दरभंगा के संयुक्त अध्यक्षता में जिला पदाधिकारी समस्तीपुर एवं पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर की उपस्थिति में समाहरणालय सभाकक्ष में समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई।

बैठक में पंचायत आम निर्वाचन से संबंधित कार्यों का क्रमवार पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रस्तुतिकरण किया गया।

Advertisement

१. निर्वाचन में किए गए कुल पदों की विवरणी
२. टोटल मतदान केंद्र
३. भेदता मानचित्र की पहचान
४. ब्लॉक वाइज बिल्डिंग एंड सेक्टर डिटेल्स
५. पंचायत निर्वाचन भेजता मानचित्र की अद्यतन स्थिति
६. मोहनपुर प्रखंड अंतर्गत गंगा नदी के बीच में मतदान केंद्र अवस्थित होने के कारण मतदान का समय कम करने का अनुरोध आयुक्त महोदय को भेजा गया।
७. लॉ एंड ऑर्डर रिपोर्ट
८. अवैध शराब की बरामदगी
९. प्रखंड वार आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन में की गई कार्रवाई
१०. पंचायत आम निर्वाचन 2021 हेतु शस्त्रों एवं कारतूसों का भौतिक सत्यापन उनको जमा करने की अद्यतन प्रतिवेदन
११. पंचायत आम चुनाव 2021 पुलिस पदाधिकारी एवं बल की आवश्यकता/उपलब्धता से संबंधित विवरनी इत्यादि।

बैठक में आयुक्त महोदय एवं पुलिस महानिरीक्षक महोदय द्वारा समीक्षा के उपरांत निम्नांकित निर्देश दिए गए:

Advertisement

1. आसन्न बिहार पंचायत आम निर्वाचन 21 सभी कोषांगों की तैयारी टाइम लाइन के अनुसार ससमय चल रही है।

2. प्रत्येक चरण में मतदान की तिथि से पूर्व जिला अधिकारी और पुलिस अधीक्षक, सभी वरीय पदाधिकारी चुनाव वाले प्रखंड में भ्रमण करेंगे। सभी प्रखंड स्थित कार्यालय मे बैठक करेंगे।

Advertisement

3. सीसीए के मामलों पर कार्रवाई एवं जिला बदर करने का निर्देश दिया गया।

4. मतदान के दिन उस क्षेत्रों के सभी असामाजिक तत्वों पर विशेष ध्यान रखने का निर्देश दिया गया। अवश्यकता अनुसार निरोधात्मक कार्रवाई भी की जाएगी।

Advertisement

5. अवश्यकता अनुसार 107 की कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

6. मतदान की तिथि से 2 दिन पूर्व संवेदनशील मतदान केंद्रों वाले क्षेत्र में सभी वरीय पदाधिकारी, पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च करना सुनिश्चित करेंगे।

Advertisement

7. क्षेत्र में किसी भी प्रकार का हथियार/गोला/बारूद/कारतूस/रुपया या शराब का वितरण ना किया जा रहा हो इसका विशेष ध्यान रखेंगे। ऐसे मामलों पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

8. सभी पुलिस पदाधिकारी अपने क्षेत्र अंतर्गत होटल, सराय, धर्मशाला आदि में चेकिंग कराना सुनिश्चित करेंगे, और मतदान से पूर्व आए लोगों की संख्या की जांच करना सुनिश्चित करेंगे।

Advertisement

9. निर्देश दिया गया कि जो प्रत्याशी मतदान में खड़े हैं उनके घर मतदान के दिन या मतदान से पूर्व कौन से लोग बाहर से आए हैं चेक करा लेना सुनिश्चित करेंगे।

10. मतदान वाले क्षेत्रों में नाका लगाना, पुलिस चेकिंग कराने का निर्देश दिया गया।

Advertisement

11. पुलिस पदाधिकारी, वरीय पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि अपनी उपस्थिति में सभी प्रकार के वाहनों की चेकिंग करवाना सुनिश्चित करेंगे।

12. मतदान के लिए मतदान की तिथि से पूर्व जिला में कंट्रोल रूम का नंबर व एक व्हाट्सएप नंबर प्रदर्शित करवाने का निर्देश दिया गया। यह नंबर जिला जन संपर्क पदाधिकारी के माध्यम से प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से साझा किया जाएगा।

Advertisement

13. मतदान के लिए पारदर्शिता बहुत जरूरी है इसे बनाए रखने का निर्देश दिया गया।

14. सभी मतदान कर्मी जो मतदान में संलिप्त होते हैं, उनका दूरभाष नंबर जिला कंट्रोल रूम व आपस में एक दूसरे कर्मी व पदाधिकारी के पास होना आवश्यक है ताकि आपस में आवश्यकतानुसार संपर्क किया जा सके।

Advertisement

15. दिनांक 26 सितंबर 21 से निर्वाचन कंट्रोल रूम सक्रिय किया जाएगा। कंट्रोल रूम के नोडल पदाधिकारी को सभी कॉल डिटेल्स हेतु पंजी संधारित करने का निर्देश दिया गया।

कोषांगों के कार्यों का पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रस्तुतिकरण किया गया:

Advertisement

१. ज़िला कार्मिक कोषांग (प्रशिक्षण, मेडिकल बोर्ड, रेंडमाइजेशन, भुगतान के बिंदु पर विवरण)
२. ए एम एफ कोषांग (Assured Minimum Facilities)
३. चरण वार वाहनों की आवश्यकता
४. अन्य राज्य और जिला से प्राप्त ईवीएम
५. ईवीएम कोषांग ग्रुप (A,B)
६. मीडिया कोषांग (प्रेस प्राधिकार पत्र, जागरूकता अभियान)

बैठक में पुलिस अधीक्षक,उप विकास आयुक्त, लेखा प्रशासन एवं स्व नियोजन, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी-सह- स्थापना उप समाहर्ता, सामान्य शाखा प्रभारी, जिला सूचना एवं विज्ञान पदाधिकारी, डीपीओ आईसीडीएस, सीएम पीएम पोर्टल प्रभारी पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, पंचायती राज पदाधिकारी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement