बिहार के रितिक पटेल ने मनाली की पतालसू चोटी पर फहराया तिरंगा

मुजफ्फरपुर : स्वतंत्रता दिवस पर माउंट यूनाम चोटी पर तिरंगा फहराने के बाद अब रितिक पटेल ने अब 13944 फिट की ऊंची पतालसू चोटी पर तिरंगा फहराकर जिले का नाम गौरवान्वित किया है। हिंदुस्तान एडवेंचर फाउंडेशन द्वारा मनाली के पतालसू चोटी पर तिरंगा फहराने के लिए रितिक समेत बिहार के सात लोगों का चयन किया गया था। रितिक का चयन फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विपिन सैनी एवं नूर मोहम्मद ने किया था। इससे पहले भी रितिक ने 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के माउंट यूनाम चोटी पर तिरंगा फहरा कर जिले का मान बढ़ाया था। रितिक ने बताया कि उसने एक्स्पीडिसन की तैयारी अच्छे से की थी, फिर भी लगातार वर्षा होने के कारण ऊपर की ओर जाने वाले रास्ते में काफी फिसलन हो गई थी। इस वजह से काफी परेशानी का सामना करना पड़ा, लेकिन अंतत चोटी पर तिरंगा फहराने में सफलता मिली। रितिक मार्शल आर्ट का खिलाड़ी है और वह राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में पदक जीत चुका है। रितिक पटेल का कहना है कि वह दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करना चाहता है।

13944 फिट पर तिरंगा फहरा कर रितिक पटेल ने फिर से एक बार जिले को गौरवान्वित करने का काम किया है। ज्ञात हो कि इससे पहले भी रितिक पटेल ने 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के माउंट यूनाम की चोटी पर तिरंगा फहरा कर अपने जिले का नाम रौशन किया है। रितिक ने इस एक्स्पीडिसन की तैयारी अच्छे से की थी। रितिक पूर्व में मार्शल आर्ट में नेशनल मेडलिस्ट रह चुके हैं।

आपको बताते चलें कि हिंदुस्तान एडवेंचर फाउंडेशन के नेशनल प्रेसीडेन्ट विपिन सैनी और नूर मोहम्मद के द्वारा मनाली के पतालसू पीक पर तिरंगा फहराने के लिए बिहार से 6 लोगों का चयन किया गया था। जिसमें मुजफ्फरपुर से रितिक पटेल का चयन हुआ था। रितिक पटेल का सपना है की दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवेरेस्ट फतह करना और अपने देश और जिले का नाम रौशन करना है। इनके इस सफलता पर गाँव और जिले में खुशी का माहौल है।

बताते चलें कि हिंदुस्तान एडवेंचर फाउंडेशन के नेशनल प्रेसीडेन्ट विपिन सैनी के द्वारा मनाली के पतालसू पीक पर तिरंगा फहराने के लिए सभी पवर्तारोही का चयन किया गया. गौरतलब है कि इससे पहले भी रितिक पटेल ने 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के माउंट यूनाम पीक पर तिरंगा फहरा कर जिले का नाम रौशन किया था. रितिक पटेल पूर्व में मार्शल आर्ट नेशनल मेडलिस्ट भी रह चुके हैं.