10 और 11 नवंबर को है छठ पूजा, बिहार में तैयारी शुरू, पटना के 93 घाटों पर होंगे बेहतर इंतजाम

छठ घाटों पर व्रतियों के लिए न्यूनतम सुविधाएं उपलब्ध होंगी, घाटों तक जानेवाले पहुंच पथों को दुरुस्त करने को निकाला जाएगा टेंडर, छठ घाटों पर निगम देगा बेहतर सुविधाएं : छठ पूजा की तैयारी शुरू कर दी गई है। पहले चरण में गंगा किनारे निगम क्षेत्र में आने वाले 93 घाटों की मरम्मत और बैरिकेडिंग का निर्णय लिया गया है। टेंडर की प्रक्रिया पूरी होने के बाद छठ घाटों को तैयार करने का काम शुरू किया जाएगा।

हालांकि, गंगा घाटों पर छठ पूजा होगी कि नहीं यह कोरोना संक्रमण की स्थिति और सरकार के आदेश पर निर्भर करेगा। बावजूद नगर निगम अपने स्तर पर तैयारी में जुट गया है। छठ पूजा में अभी 40 दिन बचे हैं। छठ पूजा 10 और 11 नवंबर को है। कोरोना काल को देखते हुए अभी से तैयारी शुरू करने का निर्णय लिया गया है। जिन घाटों तक पहुंचने में पहुंच पथ खराब है, उन्हें दुरुस्त करने के लिए जल्द ही टेंडर निकाला जाएगा ताकि छठव्रतियों को कोई परेशानी नहीं हो। पिछले वर्ष कोरोना के चलते गंगा घाटों पर पूजा के आयोजन पर रोक लगी थी। गंगा का जलस्तर सामान्य होने पर सुरक्षित और खतरनाक घाट चिह्नित किये जाएंगे।

प्रत्येक घाटों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था करनी है। छठ व्रतियों की सुरक्षा के लिए गंगा में बैरिकेडिंग की जाएगी। महिला और पुरुष के लिए यूरिनल एवं पेयजल की व्यवस्था करनी है। घाटों की सफाई और चेंजिंग रूम बनाना, पहुंच पथ से लेकर घाटों तक रोशनी की व्यवस्था करने का कार्य भी किया जाएगा। घाटों पर ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जाएगा। वॉच टावर का निर्माण, नियंत्रण कक्ष आदि कार्य किए जाएंगे। वहीं, बहुत जल्द ही निगम स्तर पर नगर आयुक्त छइ पूजा की तैयारी को लेकर समीक्षा बैठक करेंगे।

निगम के हिस्से में जितने छठ घाट आते हैं, वहां छठ पूजा की तैयारी के लिए घाटों का टेंडर निकाला गया है। घाटों की सफाई से लेकर न्यूनतम सुविधाएं उपल्ब्ध कराने के लिए टेंडर निकाल दिया गया है।

हिमांशु शर्मा, नगर आयुक्त, नगर निगम।