समस्तीपुर जिलाधिकारी द्वारा सरायरंजन प्रखंड के मैंहिषी बांध औचक निरीक्षण किया गया।

समस्तीपुर जिलाधिकारी द्वारा सरायरंजन प्रखंड अंतर्गत रायपुर बुजुर्ग पंचायत के मैंहिषी बांध वार्ड नंबर 9 का औचक निरीक्षण किया गया। साथ ही सरायरंजन प्रखंड के बाढ़ से प्रभावित चौर का भी निरीक्षण किया गया।निरीक्षण एवं क्षेत्र भ्रमण के उपरांत सरायरंजन प्रखंड अंतर्गत निरीक्षण भवन में बैठक आहूत की गई।बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निम्नलिखित निर्देश दिए गए:

  1. बाढ़ के कारण संपर्क पथ टूट जाने, घर के अंदर पानी घुस जाने, पानी से टोला/गांव घिर जाने पर वह बाढ़ प्रभावित श्रेणी में आयेंगे एवं सर्वे के अनुसार प्रभावित लोगों को GR की अनुदान राशि मुहैया कराया जाने का निर्देश अंचल अधिकारी को दिया गया।
  2. बाढ़ से प्रभावित लोग जो बांध पर आवासित हैं, उसको फूड पैकेट मुहैया करवाते रहने का निर्देश अंचलाधिकारी को दिया गया।
  3. बाढ़ से प्रभावित लोग जो बांध पर आवासित हैं उनके लिए शरण स्थल पर शौचालय व चापाकल लगवाने का निर्देश पीएचईडी के कनीय अभियंता को दिया गया।
  4. प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि रायपुर बुजुर्ग पंचायत के मैंहिषी मे सर्वे करें कि कितने बाढ़ प्रभावित लोगों के पशु को पशु चारा की आवश्यकता है? साथ ही आवश्यकता अनुसार अंचलाधिकारी से संपर्क कर तुरंत उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करेंगे।
  5. प्रखंड कृषि पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि कृषि क्षति हेतु सर्वे करेंगे। दिनांक 10.09.21 तक सर्वे कर लेने का निर्देश अंचल अधिकारी व प्रखंड कृषि पदाधिकारी को संयुक्त रुप से दिया गया।
  6. अंचल अधिकारी व एमओआईसी को संयुक्त रूप से एक मेडिकल टीम का निर्माण करेंगे।
  7. रोस्टर बार अगले 3 दिनों में बाढ़ प्रभावित गांव में घूम कर कैंप करवाना सुनिश्चित करेंगे।
  8. साथ ही चर्म रोग की दवा का अवश्यकता अनुसार वितरण, ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव आदि भी कराना सुनिश्चित करेंगे।
  9. चौर के निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा पाया गया कि बहुत से मछुआरा नदी व बांध के किनारे बाढ़ प्रभावित पानी में अपना जाल व बाड़ी लगा रखे हैं। इसे देखते हुए जिलाधिकारी द्वारा अंचल अधिकारी को निर्देश दिया गया कि सभी मछुआरे को नोटिस करें कि वह अगर अपनी बाड़ी नहीं हटाते हैं तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

निरीक्षण के क्रम में आपदा प्रबंधन प्रभारी पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल समस्तीपुर/ दलसिंहसराय, अंचल अधिकारी सरायरंजन, प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी, प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी एवं बाढ़ से संबंधित कार्यरत एजेंसियों के प्रभारी पदाधिकारी उपस्थित थे।