बिहार में छठी क्लास के दो बच्चों के खातों में रातों रात आए 900 करोड़ रुपए

Advertisement

कटिहार. न स्क्रैच कूपन, न ही लकी ड्रॉ, और ना ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के गेम शो से मिली कोई राशि, फिर भी बिहार के एक गांव के लोग बैंक में लाइन लगकर अपना खाता और बैलेंस चेक कर रहे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि गांव के दो स्कूली बच्चों के खाते में रातों-रात इतनी रकम आ गई, जितनी किसी अमीर के खाते में भी शायद नहीं आती. बच्चों के बैंक खाते में इतनी बड़ी राशि आने के बाद पूरे इलाके में लोग अपना बैलेंस चेक करने को बेचैन हैं.

पूरा मामला बिहार के कटिहार जिले के आजमनगर प्रखंड पस्तिया गांव से जुड़ा है, जहां बुधवार की शाम से ही हर शख्स अपने बैंक खाते का बैलेंस चेक कर रहा है. दरअसल, उत्तरी बिहार ग्रामीण बैंक में खाता धारक कक्षा 6 में पढ़ने दो बच्चों के खाते में एक साथ करोड़ों रुपए की राशि आ गई. कक्षा 6 में पढ़ने वाले आशीष के खाते में 6 करोड़ 20 लाख 11 हज़ार 100 रुपए और गुरु चरण विश्वास के खाते में 905 करोड़ से अधिक की राशि आ गई. आमतौर पर स्कूल में पढ़ने वाले दो बच्चों के खाते में पोशाक के लिए सरकारी राशि आनी थी, लेकिन एक साथ इतनी बड़ी राशि देखकर बच्चों के साथ-साथ उनके घरवाले हैरान रह गए.

Advertisement

पोशाक की राशि के लिए इन दोनों बच्चे के परिजन गांव के ही इंटरनेट केंद्र पर जब अपना अकाउंट चेक करवाने गए, तो उनके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई. केंद्र पर मौजूद दूसरे लोग भी बैंक खाते में इतनी बड़ी राशि देखकर हैरान थे. रातों-रात करोड़पति बने इन बच्चों को भी समझ में नहीं आ रहा है कि यह कैसे हुआ. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बैंक के शाखा प्रबंधक मनोज गुप्ता भी इस घटना से हैरान हैं. फिलहाल बैंक ने दोनों बच्चों के खाते से भुगतान पर रोक लगाते हुए कहा कि मामले की जांच करने की बात कही है. बैंक ने अपने वरीय पदाधिकारियों को भी इस बारे में सूचना दी है.

Source : News18

Advertisement
Advertisement