समस्तीपुर-अनचाहे रूप सेगर्भवती हुई महिलाओं को सुरक्षित गर्भपात का मिलेगा परामर्श

Advertisement

समस्तीपुर। सुरक्षित गर्भपात व परिवार नियोजन पर चर्चा को लेकर शुक्रवार को सदर अस्पताल स्थित सभा कक्ष में बैठक हुई। अध्यक्षता उपाधीक्षक डॉ. गिरीश कुमार ने की। आईपास डेवलपमेंट फाउंडेशन के सहयोग से डॉक्टर व नर्सिंग स्टाफ को जानकारी दी गई। आईपास के प्रतिनिधि डॉ. सीमा नारायण, शंकर दयाल सिंह एवं अमरेन्द्र कुमार ने पहली व दूसरी तिमाही के सुरक्षित गर्भपात और उसके बाद परिवार नियोजन विधि अपनाने पर चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि कोरोना काल में बहुत सी महिला अनचाहे रूप से गर्भवती हो गई और उन्हें गर्भ समापन की सुविधा लेने में परेशानी हुई है। इस बीच उनका गर्भ पहले से तीसरे तिमाही का हो गया है। उन्हें चिकित्सीय सलाह व परामर्श की आवश्यकता है ताकि उनका सुरक्षित गर्भपात कराया जा सके। सदर अस्पताल में 20 सप्ताह तक के गर्भ का समापन करने की सुविधा उपलब्ध है। अगर कोई महिला अपना गर्भ समापन कराना चाहती है तो एमटीपी एक्ट के तहत अपना गर्भ समापन करा सकती है। मौके पर महिला चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रतिभा कुमारी, अस्पताल प्रबंधक विश्वजीत रामानंद, फैमिली प्लानिग काउंसलर पवन कुमारी सहित शल्य कक्ष एवं प्रसव कक्ष के नर्सिंग स्टाफ उपस्थित रही।

अधिक से अधिक लोगों को लाभ देने का निर्देश

Advertisement

उपाधीक्षक ने बताया कि सुखी जीवन जीने के लिए लोगों को हम दो हमारे दो का पालन करना होगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग लोगों को जागरूक करें। अधिक से अधिक लोगों को परिवार नियोजन का लाभ देने का निर्देश दिया गया है। इसका मुख्य उद्देश्य छोटा परिवार सुखी परिवार का पालन कराना है। अधिक से अधिक लोगों को परिवार नियोजन का लाभ दें। परिवार नियोजन का स्थायी व अस्थायी लाभ अधिक से अधिक लोगों को देने का निर्देश दिया गया।

Advertisement

Advertisement