समस्तीपुर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक की संयुक्त अध्यक्षता में मुहर्रम एवं बाढ़ राहत कार्य की समीक्षात्मक बैठक

समस्तीपुर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक की संयुक्त अध्यक्षता में मुहर्रम एवं बाढ़ राहत कार्य की समीक्षात्मक बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष में सभी अनुमंडल पदाधिकारी,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी,सभी अंचल अधिकारी एवं सभी थाना प्रभारियों के साथ आहूत की गई।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निम्नांकित निर्देश दिए गए:

  1. जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि कोविड-19 के मद्देनजर इस बार किसी भी प्रकार का ताजिया जुलूस नहीं निकाला जाएगा।
  2. इमाम बाड़ा से संबंधित पूरी प्रक्रिया संघ या संगठन द्वारा चयनित 5 लोग मिलकर ही करेंगे,जिसकी पूरी जानकारी थाना को देना होगा,एवं थाना से इसकी अनुमति लेनी होगी।
  3. सभी पर्वों की भांति इस पर्व में भी डीजे प्रतिबंधित रहेगा। डीजे बजता हुआ पाए जाने पर संबंधित डीजे मालिक को गिरफ्तार कर उसका अनुज्ञप्ति रद्द कर देने का निर्देश दिया गया।
  4. शांति समिति कि बैठक अनुमंडल एवं प्रखंड स्तर पर कर लेने का निर्देश संबंधित अनुमंडल के अनुमंडल अधिकारी एवं संबंधित प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी को दिया गया।
  5. सभी संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च आज से ही करवाने का निर्देश संबंधित थानों के थाना प्रभारी एवं अंचल अधिकारी को दिया गया।
  6. इमामबाड़ा के आस पास भीड़ ना लगे, इसकी पुख्ता व्यवस्था करने का निर्देश सभी थाना प्रभारी को दिया गया एवं लोगों को ऑनलाइन करने के लिए प्रेरित करने हेतु निर्देश सभी अंचल अधिकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया।
  7. किसी भी प्रकार की कोई भी जुलूस की अनुमति नहीं देने का निर्देश सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं सभी थाना प्रभारी को दिया गया।

बाढ़

  1. बाढ़ प्रभावित निकटवर्ती जिले की घटनाओं को देखते हुए जिलाधिकारी द्वारा सख्त निर्देश दिया गया कि नाव का परिचालन संध्या के 6:00 बजे के बाद पूर्णत: बंद रहेगा।राज्य सरकार द्वारा धारा 144 लागू कर दी गई है।
  2. जिसकी सारी जिम्मेवारी अंचल अधिकारी एवं थाना प्रभारी की होगी।
  3. सभी थाना प्रभारी रात्रि प्रहरी की व्यवस्था करके अपने अपने एरिया में चेक करते रहेंगे की कहीं भी संध्या 6:00 बजे के बाद नाव तो नहीं चलाया जा रहा।
  4. दिन में भी नाव ओवरलोड ना चलाएं इसका भी देखरेख थाना प्रभारी अपने स्तर से करवाते रहेंगे।
  5. बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में सरकारी नाव की सेवा निःशुल्क है, इसकी जानकारी अंचलाधिकारी अपने स्तर से माइकिंग करवा कर देना सुनिश्चित करेंगे।
    बैठक में पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर, अपर समाहर्ता ,अनुमंडल पदाधिकारी सदर एवं समस्तीपुर सदर के सभी थाना के थाना प्रभारी उपस्थित थे।