समस्तीपुर में गंगा उफनाई, कई गांव डूबे, सड़कों पर फैला पानी

समस्तीपुर. जिले से गुजरने वाली गंगा नदी में ऊफान जारी है़ नदी का जलस्तर मोहनपुर के सरारीघाट पर खतरे के निशान से 2.07 मीटर ऊपर पहुंच गया है़ गंगा नदी के बाढ़ का पानी मोहनपुर और मोहिउद्दीननगर प्रखंड के कई रिहायशी इलाकों में तेजी से फैल रहा है़ गंगा का पानी धरणीपट्टी पश्चिमी, बघड़ा, दक्षिणी डुमरी, राजपुर जौनापुर तथा विशनपुर बेरी के इलाकों में फैल गया है़.

वहीं वाया नदी के बाढ़ का पानी मोहिउद्दीनगर प्रखंड के चकपारणों, गोनसा, करीमनगर, हसनपुर, बलुआही, बहादुरचक में प्रवेश कर गया है़ बिनगामा से जौनापुर जाने वाली सड़क पर दो फीट पानी बह रहा है़ कुरसाहा-सुल्तानपुर पथ पर जगह-जगह पानी का तेज बहाव शुरू है़.

शंकरपुर से धरमपुर जाने वाली सड़क पर भी दो फीट बह रहा है़ यहां नदी के जलस्तर बढ़ने की प्रवृति जारी है़ वहीं बूढ़ी गंडक का जलस्तर भी समस्तीपुर में बढ़ने लगा है़ रेल पुल के पास खतरे का निशान अंकित किया गया है़

इस जगह नदी का जलस्तर पिछले 24 घंटे में तीन सेमी बढ़ा है़ नदी यहां खतरे के निशान से 1.50 मीटर नीचे है़ रोसड़ा में बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर पिछले 24 घंटे में दो सेमी कम हुआ है़ यहां नदी खतरे के निशान से 53 सेमी नीचे है़

हायाघाट में बागमती नदी का जलस्तर फिलवक्त स्थिर है़ नदी यहां खतरे के निशान से 32 सेमी नीचे है़ नदी का जलस्तर गुरुवार को सुबह 6 बजे 45.40 मीटर पर था़.

input- Prabhat khabar