पूर्णिया और किशनगंज के विकास को मिलेगी रफ्तार, SH-99 के निर्माण का रास्ता साफ, ADB देगा ऋण

Advertisement

सामरिक ²ष्टिकोण से अति महत्वपूर्ण स्टेट हाइवे-99 सीमावर्ती दो जिले पूर्णिया और किशनगंज के विकास को गति देगा। यह हाइवे पूर्णिया के बायसी से भारत-नेपाल अंतरराष्ट्रीय सीमा स्थित किशनगंज जिले के दिघलबैंक तक जाएगी। 77 किमी लंबे इस स्टेट हाइवे के निर्माण पर सात सौ करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके लिए भारत सरकार के इकोनोमिक अफेयर्स मंत्रालय ने एशियन डेवलपमेंट बैंक से लोन लिए जाने की स्वीकृति दी है। केंद्र सरकार के डीईए की स्वीकृति के बाद एशियन डेवलपमेंट बैंक से ऋण मिलने का रास्ता साफ हो गया है। बिहार राज्य पथ विकास निगम (बीआरडीसीएल) को इसके निर्माण का जिम्मा सौंपा गया है। निविदा की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। जल्द ही निर्माण का काम शुरू होगा।

फेज-2 के तहत छह हाइवे प्रोजेक्ट को मिली है हरी झंडी

Advertisement

सरकार ने फेज 2 के तहत बिहार के कुल छह हाईवे प्रोजेक्ट को हरी झंडी दी है। एक दशक पूर्व स्टेट हाईवे का दर्जा प्राप्त बायसी-बहादुरगंज-दिघलबैंक सड़क को भी फेज-2 के तहत लिए गए छह प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है। सड़क का निर्माण बिहार राज्य पथ विकास निगम की देखरेख में होगा। सभी छह हाईवे प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए एशियन डेवलपमेंट बैंक 2430 करोड़ का ऋण देगा। इसमें सात सौ करोड़ रुपया इस सड़क के निर्माण पर खर्च किया जाएगा।

एक दशक पूर्व मिला स्टेट हाईवे का दर्जा

Advertisement

पूर्णिया के बायसी से भारत-नेपाल अंतरराष्ट्रीय सीमा दिघलबैंक के बीच 77 किलोमीटर लंबी सड़क को लगभग एक दशक पूर्व स्टेट हाइवे 99 का दर्जा मिला था। किन्तु इसका निर्माण कार्य अब तक अधर में लटका हुआ था। पूर्णिया के अमौर एवं बायसी के साथ दिघलबैंक, बहादुरगंज, कोचाधामन के लोग वर्षों से इस हाईवे के निर्माण की मांग कर रहे हैं। इस हाइवे के निर्माण से दोनों जिलों की दूरी तो कम होगी ही साथ ही सड़क हादसों में भी कमी आएगी और लोग कम समय में यह दूरी तय कर सकेंगे। फिलहाल सड़क की स्थिति बेहद खराब है। स्थानीय लोग बताते हैं कि करीब पांच दशक से भी अधिक पुरानी इस सड़क की चौड़ाई में कोई विस्तार नहीं हुआ है। सिर्फ कुछ सालों के अंतराल पर इसकी मरम्मत कर इसे उसके हाल पर छोड़ दिया जाता रहा है।

इस सड़क से रोज हजारों लोग करते हैं सफर

Advertisement

स्टेट हाईवे 99 के निर्माण से किशनगंज जिले के तीन प्रखंडों दिघलबैंक, बहादुरगंज, कोचाधामन तथा पूर्णिया जिले के दो प्रखंड अमौर और बायसी प्रखंड के हजारों लोगों को सीधा लाभ मिलेगा। सड़क निर्माण से उक्त पांच प्रखंडों के हजारों लोगों का आवागमन सरल एवं सुलभ होगा। ये सभी पांच प्रखंडों के लोगों का आपस में गहरा संबंध है तथा रोजाना हजारों लोग इससे होकर आवागमन करते हैं। साथ ही सामरिक ²ष्टिकोण से भी यह सड़क काफी महत्वपूर्ण है। इसके निर्माण से पड़ोसी देश नेपाल तक सीधी पहुंच हो जाएगी।

अंतरराष्ट्रीय सीमा को जोडऩे वाली स्टेट हाइवे 99 के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। भारत सरकार के इकोनोमिक अफेयर्स मंत्रालय ने एशियन डेवलपमेंट बैंक से लोन लिए जाने की स्वीकृति मिलने के बाद ऋण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। लोन मिलते ही निर्माण की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। -संजय कुमार, चीफ जेनरल मैनेजर, बीआरडीसीएल, पटना

Advertisement

Input- Jagran

Advertisement

Advertisement