समस्तीपुर-सिस्टम ने किया शहर को पानी-पानी, कई मोहल्ले झील में तब्दील

समस्तीपुर। जिला मुख्यालय व आसपास के इलाके में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है। बारिश का पानी फैलने से शहर में बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। पूरा शहर झील में तब्दील नजर आ रहा है। अधिकांश सड़कें जलमग्न है। कई घरों में पानी प्रवेश कर गया है। इससे लोगों की मुसीबतें बढ़ गई है। घरों से निकलना मुश्किल हो रहा है। दैनिक कामकाज करने वाले लोगों की परेशानी चरम पर है। बारिश से फिलहाल राहत की कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है। कई जगहों पर जलजमाव इतना अधिक है कि वहां लोगों ने नाव तक की मांग की है।

शहर में जलजमाव की समस्या से निपटने के लिए नगर निगम के दावे खोखले साबित हो गए। पिछले वर्ष की तरह इस साल भी बारिश के कारण शहर में भीषण जलमजमाव की समस्या पैदा हो गई है। शुक्रवार देर रात से सुबह तक मूसलाधार बारिश होने के कारण शहर में बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। सड़कों पर तीन से चार फीट बारिश का पानी जमा है। घरों में घुसा बारिश का पानी, लोग कर रहे पलायन

शहर के बीएड कालेज रोड से लेकर काशीपुर, कृष्णापुरी, वीर कुंवर सिंह कालोनी, आरएनएआर कॉलेज मोहल्ला, कचहरी रोड, ग‌र्ल्स हाईस्कूल रोड, तिरहुत अकादमी रोड में बाढ़ जैसे हालत हैं। ये कॉलोनी पूरी तरह बारिश के पानी में घिर चुके हैं। अधिकांश घरों में बारिश का पानी प्रवेश कर गया है। सड़कों पर तीन से चार फुट तक बारिश का पानी जमा है। स्थिति यह है कि घरों से निकलना लोगों को मुश्किल हो रहा है। खासकर बुजुर्ग, बच्चे और मरीजों को काफी कठिनाई हो रही है। इधर, जलभराव की स्थिति को देखते हुए कई लोग घर छोड़कर पलायन कर चुके हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि कई बार स्थानीय प्रतिनिधि और विभागीय पदाधिकारियों से शिकायत की जा चुकी है। लेकिन समस्या निदान नहीं हुआ। सिविल सोसाइटी के रामकृष्ण निवास ने जिलाधिकारी समेत आपदा प्रबंधन के वरीय अधिकारी से अविलंब बचाव जलनिकासी की मांग की है। सरकारी दफ्तरों में घुसा बारिश का पानी

लगातार हो रही मूसलाधार बारिश ने सरकारी व्यवस्था की पोल खोल दी है। कई विभागों में जलजमाव वहां की बदहाली को बयां करने के लिए काफी है। बारिश के कारण अग्निशमन कार्यालय में घुटने भर पानी जमा है। बैरक व कार्यालय पूरी तरह जलमग्न हो चुके हैं। छत से बारिश का पानी टपक रहा है। इसके कारण कर्मियों को काफी परेशानी हो रही है। स्थित यह है कर्मियों को रसोई बनाने में भी कठिनाई हो रही है। समादेष्टा कार्यालय भी पूरी तरह जलजमाव की गिरफ्त में है। मुफस्सिल थाना और महिला थाना परिसर में दो फुट से अधिक बारिश का पानी जमा है। बाजार पर भी असर, कारोबार प्रभावित

बारिश ने बाजार को फीका कर दिया है। लगातार बारिश के कारण बाजार में ग्राहक नहीं पहुंच रहे हैं। शहर के प्रमुख बाजारों में जलजमाव के कारण लोगों को पैदल चलना मुश्किल हो रहा है। इन स्थानों पर जलभराव की समस्या

शहर के काशीपुर, बीएड कालेज मुहल्ला, वीर कुंवर सिंह मुहल्ला, कृष्णापुरी, बारह पत्थर, ग‌र्ल्स हाईस्कूल रोड, तिरहुत अकादमी रोड, कचहरी रोड, सोनवर्षा, चीनी मिल, गुदरी बाजार समेत अधिकांश मुहल्ला जलजमाव की चपेट में है। मोहनपुर रोड स्थित दरभंगा-समस्तीपुर मुख्य मार्ग पर घुटने भर पानी जमा है। ब्लॉकेज हटाकर मुख्य नालों को जोड़ने का काम

नगर निगम की ओर से शहरी क्षेत्र में जलनिकासी के लिए नाला उड़ाही का कार्य लगातार जारी है। जेसीबी मशीन से नालों का ब्लॉकेज हटाकर मुख्य नाला को जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। नगर आयुक्त संजीव कुमार ने बताया कि वार्ड 01, 03, 05, 07, 08, 09, 11, 13, 14, 23 और 29 में नाला उड़ाही का कार्य किया गया है।

Input- Jagran