समस्तीपुर-रुपये के लालच में अपने साथियों की कर दी बंगाल में हत्या

समस्तीपुर। पश्चिम बंगाल पुलिस ने बिथान पुलिस के सहयोग से हत्या के दो आरोपितों को थाना क्षेत्र के सलहा बुजुर्ग पंचायत के लाद कपसिया गांव से गिरफ्तार कर लिया। पश्चिम बंगाल के वर्धमान जिले के वर्धमान थाना के थानाध्यक्ष पुष्पेंद्र जैन ने बताया कि एक जून 2021 को एचएच किनारे एक अज्ञात लाश मिली। वर्धमान पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के बाद अनुसंधान में जुट गई। लाश मिलने के बाद वर्धमान पुलिस ने एनएच के अगल- बगल के लाइन होटल की सीसीटीवी फुटेज को खंगालना शुरू किया तो पता चला कि गाड़ी नंबर बीआर09 एसी0253 जो कि बिहार का है, दो युवक उतरकर खाना खाया। फिर उसी गाड़ी से निकल गया। गाड़ी नंबर से गाड़ी मालिक का पता लगाने के बाद वर्धमान पुलिस बिथान पहुंची। मृतक की पहचान लाद कपसिया गांव निवासी अब्दुल गफ्फार का 45 वर्षीय पुत्र खालिदा अनवर उर्फ जुगनू के रूप में की गई। बिथान पुलिस ने वर्धमान पुलिस के साथ मिलकर लाद कपसिया गांव में छापेमारी कर हत्या के आरोपित सैदुर रहमान एवं सलहा बुजुर्ग गांव निवासी परवेज को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही गाड़ी भी बरामद हो गई है। सैदुर रहमान ने कबूल किया कि वे लोग तीन व्यक्ति लाद कपसिया गांव निवासी जुगनू, सलहा बुजुर्ग गांव निवासी परवेज ओर वह तीनों गाड़ी से बंगाल के वर्धमान गया था। जुगनू के पास 20-22 लाख रुपया था। जिससे जुगनू वहां फ्लैट खरीदता। लेकिन फ्लैट खरीदने से पहले ही वह और परवेज मिलकर जुगनू को गला घोंट कर मार दिया। फिर वे लोग गांव आकर जुगनू की मां और बीबी को बोला कि जुगनू वही है, कुछ दिन में आ जाएगा। इसी तरह गुमराह करते रहे। थाना क्षेत्र के लाद कपसिया निवासी जुगनू की हत्या बंगाल के वर्धमान में एक जून 2021 को गला घोंट कर कर दी गई थी। बिथान थानाध्यक्ष खुशबुद्दीन ने बताया कि इस कांड के आरोपित के द्वारा उपयोग किए गए कार, दो मोबाइल भी बरामद की गई है। दोनों आरोपितों को वर्धमान पुलिस साथ ले गई। मौके पर संजीव कुमार,राजेश कुमार सहित कई पुलिस कर्मी मौजूद थे।