विरोधियों को मुंहतोड़ जबाब देगी RJD की जंबो टीम, तेजस्वी ने इन 19 लोगों को बनाया प्रवक्ता

पटना. बीजेपी और जेडीयू नेताओ की बातों का मजबूती से जबाब देने के लिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने नई रणनीति के तहत जंबो टीम तैयार की है. आरजेडी (RJD) की नई जंबो टीम में 19 प्रवक्ताओं को शामिल किया गया है. सभी प्रवक्ताओं को तेजस्वी ने निर्देश दिया है कि विरोधियो द्वारा उठाये गए सवाल पर मजबूती से जबाब दें. सभी प्रवकताओ को यह भी निर्देश दिया गया कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे तमाम योजनाओं की खामियों को जनता तक ज्यादा से ज्यादा पहुंचाये. विधानसभा चुनाव के बाद तेजस्वी पिता लालू प्रसाद यादव की तबियत और बेल को लेकर बाहर ही रहे हैं. बीजेपी और जेडीयू (JDU) ने कोरोना और बाढ़ के सवाल पर घेरते हुए हमेशा बाहर रहने का आरोप लगाया था, ऐसे में अब तेजस्वी यादव ने सभी को कहा है कि विरोधी द्वारा उठाये गए सवालों पर जोरदार हमला बोला जाए.

2 राष्ट्रीय और 17 प्रदेश प्रवक्ता बनाये गए


आरजेडी ने नई रणनीति के तहत 19 प्रवक्ताओं की लंबी फौज तैयार की है. नए प्रवकताओं की सूची में 2 राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाये गए हैं. सांसद मनोज झा और नवल किशोर यादव को राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया है. बिहार प्रदेश प्रवक्ता के पद पर 17 लोगों की सूची में जहां कुछ पुराने लोग शामिल है वही कई नए लोगों को भी शामिल किया गया है. विधायक भाई वीरेंद्र को मुख्य प्रवक्ता का पद दिया गया है. प्रवकताओ में शक्ति यादव, मृत्युंजय तिवारी, चितरंजन गगन के साथ सारिका पासवान को भी शामिल किया गया. इस सूची में एजाज अहमद और रितु जायसवाल को पहली बार प्रवक्ता बनाया गया है. सभी प्रवकताओं को रोस्टर के अनुसार मीडिया में अपनी बात रखने को कहा है. शक्ति यादव, मृत्युंजय तिवारी, चितरंजन गगन, प्रशांत मंडल, सारिका पासवान, एम ए अनवर हुसैन, सहित 9 लोगो को सभी दिन मीडिया में अपनी बात रखने को कहा गया है. भाई वीरेंद्र, इंज्या यादव सहित 4 लोगो को सप्ताह में 3 दिन जकबि 6 लोगो को सप्ताह में दो दिन अपनी बात रखने को कहा है.

स्थापना दिवस को भव्य बनाने का मिला टास्क

5 जुलाई को आरजेडी के सिल्वर जुबली स्थापना दिवस को भव्य बनाने के लिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सभी नेताओं और प्रवकताओं को टास्क दिया है. इसके तहत हर जिला में स्थापना दिवस कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इस मौके पर ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़कर आरजेडी के कार्यक्रम को सफल बनायें इसकी जिम्मेदारी भी दी गई है.