समस्तीपुर में दिनदहाड़े अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, रंगदारी नहीं मिलने पर फायरिंग की आशंका

जिले के हसनपुर थाना क्षेत्र के दुधपुरा बाजार में रविवार को दिनदहाड़े बेखौफ नकाबपोश बदमाशों ने 40 वर्षीय एक किराना दुकानदार को गोली मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। आनन-फानन में स्वजनों ने पुलिस को सूचित करते हुए जख्मी को दुधपुरा बाजार के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सक ने गंभीर हालत देख प्राथमिक उपचार के बाद हतर इलाज के लिए बेगूसराय रेफर कर दिया है। घटना की सूचना मिलते ही एसडीपीओ शहियार अख्तर के निर्देश पर हसनपुर थानाध्यक्ष पंकज कुमार के साथ-साथ अन्य तीन थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच में जुट गई हैं।

घटना के संबंध में बताया गया है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ शाखा दुधपुरा के स्वयंसेवक 40 वर्षीय मुकुंद लाल रविवार को अपने किराना दुकान चला रहे थे। इसी बीच दिन के करीब 10.40 बजे एक बाइक पर सवार तीन नकाबपोश अज्ञात अपराधी पहुंचा। तीन में से दो अपराधी बाइक से नीचे उतरकर दुकान पर पहुंचा और दनादन फायरिंग शुरू कर दी। गोली मारने के बाद दोनों अपराधी पुन: बाइक पर सवार होकर रोसड़ा की ओर भाग निकला। अपराधियों द्वारा की गई गोलीबारी में एक गोली मुकुंद के सिर में लग गई। जिससे वे बेहोश होकर नीचे गिर गए। दुकान पर मौजूद ग्राहकों द्वारा शोर मचाने पर आस पास के जुटे लोगों ने जख्मी किराना व्यवसायी को प्राथमिक उपचार के लिए बाजार के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन गंभीर स्थिति देख चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद बेगूसराय रेफर कर दिया।

घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष पंकज कुमार पुलिस बलों के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गए हैं। घटना के विरोध में व्यवसायियों का आक्रोश उबलता देख सिंघिया थाने के अलाआ दो अन्य थाने की पुलिस पहुंचकर कैम्प कर रही है। घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है। लेकिन घटना के समय दुकान पर मौजूद ग्राहकों का कहना है कि तीन नकाबपोश अपराधियों में से दो अपराधी हथियार लहराते हुए दुकान पर पहुंचा। जबकि एक अपराधी बाइक को स्टार्ट किए हुए था। दुकान पर पहुंचते ही एक अपराधी गोली चला दिया। मगर उसका गोली फंस जाने के कारण फायर नहीं हो सका। इतने में अपने हाथ में रखे पिस्टल से दूसरे अपराधी ने फायरिंग शुरू कर दी।

घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष पंकज कुमार पुलिस बलों के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गए हैं। घटना के विरोध में व्यवसायियों का आक्रोश उबलता देख सिंघिया थाने के अलाआ दो अन्य थाने की पुलिस पहुंचकर कैम्प कर रही है। घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है। लेकिन घटना के समय दुकान पर मौजूद ग्राहकों का कहना है कि तीन नकाबपोश अपराधियों में से दो अपराधी हथियार लहराते हुए दुकान पर पहुंचा। जबकि एक अपराधी बाइक को स्टार्ट किए हुए था। दुकान पर पहुंचते ही एक अपराधी गोली चला दिया। मगर उसका गोली फंस जाने के कारण फायर नहीं हो सका। इतने में अपने हाथ में रखे पिस्टल से दूसरे अपराधी ने फायरिंग शुरू कर दी।