बिहारियों के लिए बड़ी खुशखबरी: लगातार 5वें दिन गिरा पॉजिटिविटी रेट, लॉकडाउन का दिखा भारी असर

बिहार में कोरोना की रोकथाम को लेकर सरकार ने लॉकडाउन का एलान किया है. इसका काफी असर देखने को मिल रहा है. फर्स्ट बिहार झारखंड आपको डेटा एनालिसिस की खबर बता रहा है, जो बिहार सरकार और यहां के लोगों के लिए बहुत ही अच्छी खबर है. एक तरफ बिहार ने जहां देखा कि नाइट कर्फ्यू में मामले तेजी से बढ़ते ही जा रहे थे. वहीं, दूसरी तरफ ये देखा जा रहा है कि लॉकडाउन के कारण बिहार में पिछले 5 दिनों से लगातार पॉजिटिविटी रेट नीचे गिरती जा रही है. जिसके कारण एक्टिव मरीजों की संख्या और स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या में भी काफी अंतर देखा गया है.

रविवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक बिहार में सिर्फ 11 हजार 259 नए मामले सामने आये हैं. फर्स्ट बिहार की टीम ने जब कोरोना के आंकड़ों का एनालिसिस किया तो पाया गया कि पिछले 5 दिनों में संक्रमण का दर कम हुआ है. सूबे में पॉजिटिविटी रेट लगातार नीचे गिर रहा है. हालांकि अभी भी बिहार के कुछ विशेष जिलों में लोगों को काफी सावधानी बरतने की आवश्यकता है. इस लिस्ट में सबसे ऊपर राजधानी पटना का नाम है. यहां प्रतिदिन सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं. आज भी यहां 1 हजार 646 केस मिले हैं. हालांकि पिछले दिनों की तुलना में राजधानीवासियों के लिए भी ये अच्छी खबर है. क्योंकि यहां रोज 2 हजार से ज्यादा मरीज सामने आ रहे थे.

बिहार में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये किये जा रहे प्रयासों से कोरोना की पॉजिटिविटी रेट लगातार कम हो रही है. प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 30 अप्रैल को 16.14% था, जो इस महीने 9 मई को घटकर 10.31% हो गया है. फर्स्ट बिहार की टीम ने पिछले 5 दिनों के आंकड़े में देखा कि 5 मई को पॉजिटिविटी रेट 15.57% था. 6 मई को 14.40%, 7 मई को 12.56%, 8 मई को 11.98% था. और आज 9 मई को पॉजिटिविटी रेट गिरकर 10.31% तक आ गया है. आपको बता दें कि ये आंकड़े प्रतिदिन होने वाले टेस्ट की संख्या और संक्रमितों की संख्या के आधार पर ज्ञात किये गए हैं.

#COVIDー19 Updates Bihar:
(शाम 4 बजे तक)

➡️विगत 24 घंटे में कुल 1,09,190🧪 सैम्पल की जांच हुई है।

➡️अबतक कुल 4,77,389 मरीज ठीक हुए हैं।

➡️वर्तमान में #COVID19 के active मरीजों की संख्या 1,10,804 है।

➡️बिहार में कोरोना मरीजों का रिकवरी प्रतिशत 80.71 है।#BiharHealthDept pic.twitter.com/rzi35x5fry— Bihar Health Dept (@BiharHealthDept) May 9, 2021

रविवार को राजधानी पटना में सर्वाधिक 1 हजार 646 केस मिले हैं. इसके अलावा सूबे के 3 और जिलों में भी 500 से अधिक मामले सामने आये हैं. औरंगाबाद में 592, समस्तीपुर में 574 और बेगूसराय में 565 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है. गौरतलब हो कि पिछले 24 घंटे में कुल 1 लाख 9 हजार 190 लोगों की जांच हुई है. बिहार में अभी तक कुल 2 करोड़ 73 लाख 11 हजार 143 जांच की जा चुकी है. प्रदेश में अबतक कुल 4 लाख 77 हजार 389 मरीज ठीक हुए हैं. जिसके कारण स्वस्थ होने वाले का रिकवरी रेट बढ़कर 80.71% हो गया है. सूबे में अभी फिलहाल 1 लाख 10 हजार 804 केस एक्टिव हैं.

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार को लगातार चिकित्सीय सामग्री, दवा और ऑक्सीजन की आपूर्ति कर रही है. पिछले दिनों बिहार को केन्द्र सरकार से 150 ऑक्सीजन कांसेंट्रेटर (5 LPM), 3 लाख 90 हजार एंटीजन किट, 90 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 212 बाइपैप मशीन और एसिसरिज मिले हैं. 15 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन के डोज का चौथा खेप जिलों में भेजा गया है. केन्द्र से रेमडेसिविर इंजेक्शन का कोटा 16 मई तक बढ़ाकर 1 लाख 50 हजार कर दिया गया है. रविवार को हेल्थ मिनिस्टर ने ये भी बताया की कोरोनाकाल में बेहतर उपचार हेतु अस्थायी तौर पर एक हजार चिकित्सकों की नियुक्ति 10 मई से जिलों में शुरू हो जाएगी.