दरभंगा में पांच माह के संक्रमित बच्चे को सीने से लगाई हैं मां, कोरोना पर भारी ममता

कोरोना के कहर से जहां एक ओर लोग त्रस्त है, वहीं दूसरी ओर इसपर ममता का पलड़ा भारी पड़ गया है। बताते चलें कि डीएमसीएच में पांच माह के बच्चे को कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद भर्ती कराया गया है। वहीं बच्चे के माता-पिता की रिपोर्ट निगेटिव आई है। बच्चे की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है, तो मां आइसोलेशन वार्ड के बाहर रहती थी। बिना मां के बच्चे का रो-रोकर बुरा हाल था, वहीं मां भी बच्चे के दर्द को महसूस कर बाहर बिलख-बिलखकर रोती थी।

मां को पास पाकर मुस्कुराया बच्चा

आखिर में मां से बच्चे का दर्द सहा नहीं गया। बच्चे से मिलने के लिए वह जिद पर अड़ गई। और आखिरकार मां की ममता जीत गयी। अपनी जान की परवाह ना करते हुए मां ने अपने बच्चे को सीने से लगा लिया। जिसे देखकर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स समेत वहां मौजूद अन्य लोगों की आंखें नम हो गई। बता दें कि मां अपने संक्रमित बच्चे को सीने से लगा कर स्तनपान कराने लगी, वहीं रोता-बिलखता बच्चा भी मां का सानिध्य पाकर मुस्कुराने लगा।

मां की ममता देख नतमस्तक हुए लोग

बता दें कि कोरोना काल ने रिश्ते-नाते की पहचान करा दी है। संक्रमित व्यक्ति एवं मृतकों को छोड़कर भाग जाते हैं, वहीं एक मां बिना पीपीई कीट पहने अपने बच्चे को गोद में लेकर बैठी है। मां अपने बच्चे को छोड़कर नहीं जाना चाहती है। डॉ के अनुसार मां सावधानी बरतते हुए बच्चे को दूध पिला सकती है। साथ ही मास्क लगाकर रखने एवं सैनिटाइजेशन करते रहने की जरूरत है। आज के समय में जहां एक ओर लोग अपने सगों को छोड़कर निकल जाते हैं, वहीं मां की इस ममता के सामने लोग नतमस्तक हो गए हैं।