मुजफ्फरपुर में एक संस्था ने 70 कुत्तों के गले में प्रवर्तित पट्टा पहनाया ताकि रात में दूर से ही चमके

बिहार के मुजफ्फरपुर में स्थित ‘आवाज बेजुबानों की’ नाम की संस्था ने 70 कुत्तों के गले में प्रवर्तित पट्टा पहनाया ताकि रात को दूर से ही गाड़ियों की रौशनी में वो चमके और लोग समय रहते ब्रेक लगा सके।

दरअसल, यह नेक कार्य करने वाले संस्था “आवाज़- बेज़ुबानों की” की शुरूआत पिछले 3 महीने पहले की गयी।वहीं बताया जा रहा हैं कि अभी तक इस संस्था ने शहर में अलग-अलग जगहों पर क़रीब 300 कुत्तों को पट्टा पहनाया हैं। वहीं ये संस्था ने ठंड के समय भी लगभग 250 गर्म बिस्तर बाँटे थे।

बता दें कि यें संगठन शहर के जानेमाने मॉडल,अभिनेता और समाज सेवी लक्ष मोहन और उनके साथी सुमन्त शेखर, और अनंत अरुण ने मिलकर शुरुआत की।ये सभी मिलकर जानवरों के लिए मदद कर रहे थे।फिर इन्होनें आवाज़ बेजूबानों की नाम से एक संस्था की स्थापना की।

बता दें कि इस संस्था के अंतर्गत युवा सड़क पर रह रहे जानवरों जिनको घर नहीं हैं उनके लिए दवा और ठंड के वक़्त बिस्तर का इंतज़ाम किए हैं।वहीं आज हुए कार्यक्रम में सुमन्त शेखर,अजित सिंह,सक्षम कुमार,शुभंगी सिंह,रमण कुमार,गोविंद कुमार,अक्षय कुमार ,दीप्शिखा बैनर्जी और लक्ष मोहन मौजूद थे।