बिहार में आज से 20 फीसदी महंगा हुआ बस किराया, जानें पटना से विभिन्न शहरों का नया रेट

बिहार में निजी बस संचालकों ने 14 मार्च की आधी रात से ही बसों का किराया 20 फीसदी तक बढ़ा दिया है. होली से ठीक पहले बस किराया बढ़ जाने से होली में वापस घर जाने वालों की परेशानी बढ़ गई है. पटना के मीठापुर से उत्तर बिहार के साथ दूसरे शहरों के लिए खुलने वाली बसों में सोमवार से बढ़ा हुआ किराया वसूला जा रहा है.
बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह ने बताया कि पिछले सालों में पेट्रोल और डीजल के दामो में जैसी बढ़ोतरी हुई है, उससे बसों को चलाना मुश्किल हो गया है. इसलिए मजबूरी में किराया बढ़ाया गया है. गौरतलब है कि इससे पहले 2018 में भी बसों का किराया बढ़ाया गया था.

कहां से कहां तक कितना लगेगा किराया

पटना से शेखपुरा का किराया नॉन एसी बसों में 125 रुपया जबकि ऐसी बसों में 145 रुपए लगेगा. पटना से बरबीघा 115 और 125, पटना से राजगीर 100 और 120, पटना से वारसलीगंज 120 और 140, पटना से नरकटियागंज 290 और 340, पटना से बगहा 295 और 340, पटना से पूर्णिया 540 और 595, पटना से सहरसा 445 और 490, पटना से मधेपुरा नन एसी बसों में 455 रुपये और एसी बसों में 504 रुपये किराया लगेगा.

विमानों के बढ़े किराये ने भी होली में बढ़ाई मुश्किल

एक तरफ बसों का किराया 20 फीसदी बढ़ गया है तो वहीं विमानों के बढ़े किरायों ने भी होली में वापस घर आने वालों की मुश्किलें बढ़ा दी है. होली तक विमानों का किराया दोगुने तक बढ़ गए है. दिल्ली से आने वाले विमानों के किराये में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी देखी जा रही है. बिहार में होली को सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है और अधिकांश लोग इस मौके पर अपने घर लौटते हैं.