बिहार सरकार की शराब तस्‍करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, पांच घंटे में सवा करोड़ की शराब जब्त, 62 गिरफ्तार

बिहार सरकार ने शराबबंदी को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। मद्य निषेध विभाग ने मंगलवार को सुबह पांच से दस बजे तक पूरे राज्य में एक साथ शराब के खिलाफ ‘स्पेशल ड्राइव’ चलाया। पांच घंटे तक सभी जिलों में उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने सड़क पर उतरकर जांच की जिसमें सवा करोड़ रुपये से अधिक की अवैध शराब पकड़ी गई। इसके अलावा बैग से 29.16 लाख रुपये भी जब्त किए गए हैं।

48 मामले, 62 गिरफ्तार

   विभाग के उपायुक्त कृष्णा कुमार ने बताया कि अपर मुख्य सचिव के निर्देश पर शराबबंदी को लेकर वाहनों की जांच, छापामारी और गिरफ्तारी अभियान चलाया गया। अभियान के अंतर्गत 10,458 लीटर विदेशी शराब, 2,657 लीटर देसी शराब और 3,445 लीटर अन्य मादक द्रव्य जब्त किया गया। पूरे राज्य में 48 मामले दर्ज किए गए जिसके अंतर्गत 62 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा दो दर्जन वाहनों को जब्त किया गया है, इसमें 13 दोपहिया, नौ चार पहिया व दो तीन पहिया वाहन हैं।

मिल्क वैन के गुप्त चैंबर में मिली शराब

विशेष जांच अभियान के दौरान खगडिय़ा जिले में सुधा कंपनी का दूध ढोने वाले वैन में 554 लीटर अवैध शराब जब्त की गई। शराब को छिपाने के लिए मिल्क वैन में गुप्त चैंबर बनाया गया था। सबसे बड़ी जब्ती औरंगाबाद के कुटंबा थाना अंतर्गत ऐरका में हुई। यहां ट्रक से एक हजार कार्टन में रखी 8640 लीटर अवैध विदेशी शराब जब्त की गई।

मोतिहारी में मिला 29.16 लाख कैश

 मोतिहारी के डुमरिया चेकपोस्ट पर वाहन चेकिंग के दौरान रुपये से भरा हुआ बैग बरामद हुआ। बाइक चला रहे मो. सुलेमान के पास से मिले बैग में 29,16,340 रुपये मिले। उत्पाद अधिकारियों ने पूर्वी चंपारण के एसपी को इसकी जानकारी दी जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर पूछताद की जा रही है।

होली को लेकर और बढ़ेगी सख्ती

मद्य निषेध विभाग के अधिकारियों ने बताया कि होली और पंचायत चुनाव को लेकर और सख्ती बढ़ाई जाएगी। सभी उत्पाद अधिकारियों को अलर्ट कर दिया गया है। मद्य निषेध इकाई की टीम भी शराब के अवैध नेटवर्क को ध्वस्त करने में लगी हुई है। सीमावर्ती चेकपोस्ट पर भी मुस्तैदी बढ़ा दी गई है।