लड़की को बचपन से थी बाल खाने की आदत, पेट से निकला 2 किलो बाल, देखकर हैरान रह गए डॉक्टर

एक अजीबोगरीब मामला भोजपुर जिले के आरा से सामने आया है. ये मामला काफी हैरान करने वाला है. दरअसल एक बच्ची के पेट से दो किलों के बाल का गुच्छा निकाला गया है. जिसे देखकर डॉक्टरों की भी नींद उड़ गई और वे भी काफी आश्चर्यचकित रह गए. बताया जा रहा है कि बच्ची को बचपन से ही बाल खाने की आदत थी. जिसके कारण आज उसका ये हाल हुआ है.

मामला भोजपुर जिले के आरा का है, जहां एक बच्ची के पेट से लगभग दो किलो के बालों का गुच्छा निकला है. ऑपरेशन कर डॉक्टरों ने काफी मुश्किल से इसे बाहर निकाला है. उसका इलाज किया जा रहा है. फिलहाल उसकी तबीयत ठीक है. वह पूरी तरह स्वस्थ है. जानकारी मिली है कि ये बच्ची भोजपुर के पड़ोसी जिले यानी कि बक्सर की रहने वाली है.

बक्सर जिले के ब्रह्मपुर थाना क्षेत्र के रहथुआ गांव के रहने वाले मुन्ना सिंह की 14 साल की बेटी नेहा कुमारी लगभग दो सालों से पेट दर्द से परेशान चली आ रही थी. उसके पेट के ऊपरी भाग में सूजन और दर्द की शिकायतें रहती थी. बीते 9 फ़रवरी को उसके घरवालों ने आरा शहर में लाकर डॉक्टरों से दिखाया. डॉक्टर ने जब खून की जांच और सीटी स्कैन कराया तो उन्होंने पाया कि लड़की के पेट में बालों का गुच्छा है.

डॉक्टर ने सफल ऑपरेशन कर बच्ची के पेट से बाल के गुच्छे को बाहर निकाला. जब उन्होंने इसे बाहर निकाला तो वे खुद भी काफी हैरान रह गए. क्योंकि बाल का गुच्छा काफी बड़ा था. जिसका वजन लगभग 2 किलो बताया जा रहा है. उन्होंने बताया कि पीड़िता को बचपन से ही अपने ही बालों को खा रही थी, जिसके चलते उसके पेट में करीब दो किलो के बालो का गुच्छा बन गया था, जिससे बच्ची को पेट में समस्या होने लगी थी.

डॉक्टर के मुताबिक इस तरह की आदत मानसिक रोगियों को होती हैं. ऐसे रोगी अपना या किसी दूसरे का बाल खा जाते है, जो पेट की आंत में जमा हो जाता है. यह बहुत ही कम पाए जाने वाला बीमारी है. दो से छह प्रतिशत लोगों में इस तरह के बीमारी का लक्षण पाया जाता है.