समस्तीपुर : मोटर कार रेसिंग चैंपियनशिप में केवटा के अमन ने राष्ट्रीय स्तर पर लहराया परचम

समस्तीपुर के दलसिंहसराय प्रखंड स्थित केवटा गांव के रहने वाले ऑटोमोबाइल इंजीनियर अमन चौधरी ने राष्ट्रीय स्तर पर आधुनिक एवं महंगे खेल मोटर कार रेसिंग में परचम लहराया है। बचपन से ही कार का चलाने का था शौक।

समस्तीपुर। जिले के दलसिंहसराय प्रखंड स्थित केवटा गांव के रहने वाले ऑटोमोबाइल इंजीनियर अमन चौधरी ने राष्ट्रीय स्तर पर आधुनिक एवं महंगे खेल मोटर कार रेसिंग में परचम लहराया है। उसने इस प्रतियोगिता में सेकेंड रन अप स्थान प्राप्त किया। अब उसकी तमन्ना भविष्य में विश्व स्तरीय फॉर्मूला – 1 जैसे रेसिंग में सफलता हासिल करने की तमन्ना है। बिहार प्रदेश से कार रेसिंग चैंपियनशिप में भाग लेने वालों की संख्या नगण्य होने के बाद भी उसने इतनी बड़ी उपलब्धि हासिल की है।

Samastipur: Aman of Kevata waved at national level in Motor Car Racing Championship

 अमन के माता-पिता बताते है कि उसे बचपन से एकमात्र खिलौना कार से ही लगाव था। उसके कमरे में हर तरह के कार का प्रोटो टाइप मिल जाएगा। अमन ने बताया कि वह हमेशा रेसिंग के बारे में भावुक था। वर्ष 2018 में दुबई कारटिंग में पहली दौड़ के बाद ही खेल के प्रति जुनून बढ़ गया। इसके बाद इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए अडिग हो गया। उसने बताया कि उस समय उसने बहुत कुछ सीखा था। जिससे अपनी तकनीक सुधार करने में मदद मिली। अमन की इस सफलता पर दादा प्रो. चंद्रकांत चौधरी, दादी मीना चौधरी, पिता नलिनीकांत चौधरी, माता रेणु चौधरी, चाचा रजनीकांत चौधरी सहित पूरा परिवार गौरवान्वित है। 

अमन ने जेके टायर नोविका नेशनल कार चैंपियनशिप में जीत दर्ज की। यह कार रेसिंग के ड्राइवरों के लिए भारत की प्रमुख रेसिंग चैम्पियनशीप है। 1997 में जेके टायर ने एकल सीट रेसिंग श्रृंखला पेश की थी। सिंगल सीटर 800 सीसी इंजन की मामूली शुरूआत से इस चैंपियनशीप ने एक लंबा सफर तय किया है।

input-JAGRAN