कन्हैया कुमार के JDU मंत्री अशोक चौधरी से मुलाकात करने से बिहार में सियासी अटकलें तेज

बिहार की राजनीति कभी ऊपर-नीचे कभी दाएं-बाएं जाती दिख रही है। ऐसे में कम्युनिस्ट पार्टी के नेता कन्हैया कुमार भी अपने अलग अंदाज में नजर आ रहे हैं। आपको बता दें की कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ़ इंडिया के नेता कन्हैया कुमार और जेडीयू नेता अशोक चौधरी ने मुलाकात की है जबकि मुलाकात किसी गंभीर विषय पर नहीं हुई है और यह मुलाकात कन्हैया कुमार ने अशोक चौधरी के मूल आवास पर की। यह मुलाक़ात औपचारिक तौर पर की गई।लेकिन इस मुलाकात के बाद से राजनीति हल चल जोर-शोर से बढ़ गई है और ऐसा दिख रहा है कि कन्हैया कुमार जेडीयू में शामिल हो सकते हैं।

लेकिन वही अजय आलोक का कहना है कि वह एक अलग विचार धरा के हैं और अगर वह जेडीयू में आते हैं तो उनको अपनी विचारधारा को छोड़कर दूसरी विचारधारा अपनानी होगी। हालांकि किसी भी नेता के लिए विचारधारा को छोड़ना और अपनाना एक अहम भूमिका होती है और ज्यादातर नेता इसमें असफल होते देखते हैं।आपको बता दें कि कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव जारी किया गया था और इसकी वजह यह थी कि पिछले साल 1 दिसंबर को पटना में पार्टी कार्यालय सचिव इंदु भूषण के साथ उन्होंने बदसलूकी की थी। ऐसे में कई पार्टी के नेता नाराज हो गए थे और इस बात पर चर्चा करने के लिए बेगूसराय जिला काउंसिल की बैठक तय की गई थी। लेकिन यह बैठक अचानक रद्द भी कर दी गई थी। बताया जा रहा थी की इंदु भूषण के साथ मारपीट की गई है और यह बिल्कुल भी सही तरीका नहीं है अपनी बात को रखने का।