नाजायज रिश्ते की आशंका पर चचेरे भाई ने की थी चंदन की हत्या, चार गिरफ्तार

समस्तीपुर। सिघिया थाना क्षेत्र के लगमा निवासी चंदन कुमार की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या मामले में स्थानीय पुलिस ने एक महिला समेत चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। साथ ही धारदार हथियार भी बरामद किया है। पुलिस का दावा है कि हत्या प्रेम प्रसंग में हुई है। गिरफ्तार आरोपित की पहचान गांव के ही नंद कुमार सिंह के पुत्र राजीव कुमार सिंह, त्रिभुवन प्रसाद सिंह के पुत्र सुमन कुमार सिंह, आरती प्रसाद सिंह के पुत्र रौशन सिंह और दीपक सिंह के रुप में हुई है। आरोपितों के पास से मृतक का मोबाइल, घटना में प्रयुक्त लोहे का शरिया और एक जैकेट बरामद हुआ है। रविवार को रोसड़ा थाना परिसर में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शहरियार अख्तर ने मामले का पर्दाफाश किया। बताया कि प्रेम प्रसंग में मृतक चंदन कुमार की हत्या की गई है। मृतक के चचेरे भाई राजीव कुमार सिंह ने ही हत्या की साजिश रची थी। उसे अपनी पत्नी और चंदन के बीच अवैध संबंध का शक था। 27 जनवरी की रात अपने चार अन्य सहयोगियों के साथ धारदार हथियार से गला रेतकर चंदन की हत्या कर दी। घटनास्थल पर श्वान दस्ता और एफएसएल की टीम ने भी जांच की। एफएसएल की जांच रिपोर्ट व वैज्ञानिक अनुसंधान से आरोपितों का सुराग मिला। आरोपितों ने हत्या में संलिप्ता स्वीकार की है। छापेमारी दल में सिघिया थानाध्यक्ष पंकज कुमार, पुअनि विरेन्द्र कुमार, प्रभु नारायण यादव, सुबोध कुमार समेत सशस्त्र बल के जवान मौजूद रहे।

सुप्तावस्था में ही कर दी थी लगमा के चंदन की हत्या

28 जनवरी को सिधिया थाना क्षेत्र के लगमा स्थित घर में रमानंद सिंह के 21 वर्षीय पुत्र चंदन का शव मिला। सुप्तावस्था में ही हत्यारों ने गला रेत कर उसकी हत्या कर दी थी। मृतक के भाई कुंदन कुमार सिंह की पत्नी सीखा कुमारी ने थाना में एक आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई। बताया था कि मंगलवार को भोज से लौटकर अपने धर आया और सो गया। सुबह काफी देर तक नहीं उठा तो बुजुर्ग मां ने आवाज लगाई। इसके बाद जाकर देखा तो रजाई के अंदर चंदन का सिर घर से अलग था।

Input – Jagran