बिहार। जाम में फंसी एंबुलेंस में महिला ने दिया बच्चे को जन्म, नाम रखा जामवंत

अकबरनगर में बुधवार को भी भीषण जाम लगा रहा। इस दौरान प्रसव पीड़ा से परेशान एक महिला को लेकर तारापुर से भागलपुर जा रही एंबुलेंस भी जाम में फंस गई। इस दौरान प्रसव पीड़ा से महिला की स्थिति खराब हो गयी। परिजन मदद की गुहार लगाते रहे पर एंबुलेंस को निकाला नहीं जा सका। महिला की हालत नाजुक हो गयी और उसे एंबुलेंस में ही प्रसव कराया गया। उसने एम्बुलेंस में ही एक बच्चे को जन्म दिया। फिलहाल जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।

जानकारी के अनुसार तारापुर की रहने वाली सरिता देवी को बुधवार की सुबह सात बजे प्रसव पीड़ा शुरू हुई। परिजन पहले उसे तारापुर अस्पताल ले गये। सरिता देवी के पति कृष्णदेव कुमार फौज में हैं।

उन्होंने बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए पत्नी को लेकर भागलपुर जाना बेहतर समझा और एक एंबुलेंस से पत्नी और अन्य परिजन को लेकर भागलपुर के लिए निकले, पर रास्ते में जाम में फंस गये। बाद में अकबरपुर थानेदार ने एंबुलेंस को जाम से निकाला और भागलपुर के लिए रवाना किया।

यह तो जानलेवा जाम है : कृष्णदेव


कृष्णदेव कुमार ने बताया कि भागलपुर में उनके रिश्तेदार रहते हैं, इसलिए बेहतर इलाज के लिए वो लोग भागलपुर जा रहे थे। सुबह करीब आठ बजे तारापुर से एंबुलेंस से वो लोग निकले थे। इसी दौरान अकबरनगर में थाना चौक पर जाम लगा था। इसमें एंबुलेंस फंस गयी।

इस दौरान वाहनों की कतार बढ़ती गयी। लोग इधर-उधर से घुसकर जाम को और विकराल करते रहे। उनकी पत्नी घंटों जाम में तड़पती रही। वह लोगों से आग्रह करते रहे, पर कुछ नहीं हुआ। इसी दौरान एंबुलेंस में ही प्रसव हो गया। घंटों जाम के बाद स्थानीय थाना की पुलिस पहुंची तब जाकर कुछ देर में उनका वाहन जाम से निकल सका। बताया जा रहा है कि जाम में बच्चे की जन्म होने से उसका नाम जामवंत रखा जा रहा है।