1090 WARNING : अश्लील साइट सर्च करते ही अलर्ट हो जाएगी पुलिस

यदि आपने किसी युवती, महिला या फिर बच्ची के साथ अश्लील हरकत की तो अब खैर नहीं। इसके लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की 1090 सेवा ने नई योजना बनाई है। इस योजना के तहत पुलिस ऐसे लोगों की मानसिकता को बदलने की कोशिश करेगी, जो इस तरह के अपराध कर सकते हैं। इसमें इंटरनेट मीडिया का सहारा लिया जाएगा। ऑनलाइन अश्लील सामग्री सर्च करते ही 1090 सावधान रहने के लिए अलर्ट देगा। यह सारी जानकारी 1090 के पास दर्ज भी हो जाएगी। भविष्य में यदि उस इलके में छेड़खानी या दुष्कर्म जैसी वारदात होती है तो वही डेटा काम आएगा और अपराधी पकड़ लिया जाएगा।

यदि आपने किसी युवती, महिला या फिर बच्ची के साथ अश्लील हरकत की तो अब खैर नहीं। इसके लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की 1090 सेवा ने नई योजना बनाई है। इस योजना के तहत पुलिस ऐसे लोगों की मानसिकता को बदलने की कोशिश करेगी, जो इस तरह के अपराध कर सकते हैं। इसमें इंटरनेट मीडिया का सहारा लिया जाएगा। ऑनलाइन अश्लील सामग्री सर्च करते ही 1090 सावधान रहने के लिए अलर्ट देगा। यह सारी जानकारी 1090 के पास दर्ज भी हो जाएगी। भविष्य में यदि उस इलके में छेड़खानी या दुष्कर्म जैसी वारदात होती है तो वही डेटा काम आएगा और अपराधी पकड़ लिया जाएगा।

अब इंटरनेट मीडिया के माध्यम अथवा सड़क पर चल रही युवती, महिलाओं और बच्चों के साथ अपराध करने वालों की दूषित मानसिकता को 1090 बदलने की कोशिश करेगा। इसके लिए जब आप इंटरनेट मीडिया के माध्यम से कोई पोर्न साइट, अश्लील वीडियो अथवा बार-बार कुछ ऐसा सर्च करने की कोशिश करते हैं जिससे अपराध बढ़ता हो तो ऐसे में 1090 सावधान रहने के लिए अलर्ट देगा। ‘छिछोरों के न चलेंगे हथकंडे जब 1090 चलाएगी उन पर डंडे…’ इस तरह के अलर्ट मैसेज आपकी साइट पर आएंगे। यह आपकी अपराधिक मानसिकता को रोकने और जागरूक करने के लिए दिए जाएंगे। यदि फिर भी महिलाओं से छेड़छाड़ की तो 1090 कार्रवाई करेगा।

शोहदों को घेरकर पकडेंगे : एडीजी 1090 नीरा रावत ने बताया कि अगर राह चलते आपने किसी लड़की, महिला के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की तो सड़क पर लगे पोस्टर आपको उस अपराध में निहित सजा की जानकारी देकर चेतावनी देंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा महिला सुरक्षा के लिए शुरू की गई मिशन शक्ति योजना को वूमेन पावर लाइन (1090) और शक्तिशाली बनाएगा। इसके लिए महिला और बाल सुरक्षा के लिए 1090 ने चक्रव्यूह तैयार कर लिया। वह शोहदों को हर तरफ से घेरकर पकड़ा जाएगा।

इंटनेट के सभी यूजर निशाने पर : नीरा रावत ने बताया कि पायलेट प्रोजेक्ट के तहत सूबे के छह जिलों में यह व्यवस्था शुरू कराई गई थी, जिसमें काफी अच्छा रिस्पांस आया है। अब सूबे के सभी जिलों में यह व्यवस्था होगी। सूबे में करीब 11.6 करोड़ इंटरनेट यूजर्स हैं। मुख्य रूप से वे सभी लोग 1090 के टारगेट में हैं। महिलाओं की फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम आइडी पर सुरक्षा से संबंधित मैसेज और युवकों को चेतावनी भरा मैसेज भेजा जाएगा।

चौराहों और सार्वजनिक स्थानों पर शोहदों के पोस्टर :

आइपीएस राघवेंद्र द्विवेदी ने बताया कि राजधानी समेत पूरे प्रदेश के चौराहों और सार्वजनिक स्थानों अथवा ब्लैक स्पॉट (जहां छेड़छाड़ से संबंधित मामले अधिक होते हों) वहां पर स्लोगन के साथ शोहदों पर शिकंजा कसने के लिए पोस्टर लगाए जाएंगे, जिससे शोहदे अगर किसी के छेड़छाड़ करें तो उनके अंदर उस अपराध के लिए भय पैदा हो।

शोहदों में डर पैदा करने के लिए यह मैसेज

जिसको सुधार न पाई मास्टर जी की छड़ी, उसके लिए 1090 की हथकड़ी।
छिछोरों के न चलेंगे हथकंडे जब 1090 चलाएगी उन पर डंडे।


महिलाओं को जाएंगे ये मैसेजगुंडे बदमाशों से पीछा छुड़ाना है तो 1090 पर कॉल लगना है।

विपत्ति में सहारा है, 1090 हमारा है।

डरने की क्या बात 10 है तुम्हारे साथ।

Source : Dainik Jagran