8 फरवरी से खुलेंगे स्कूल:अब छठी क्लास से ऊपर तक की कक्षाओं में भी शुरू हो जाएगी पढ़ाई

बिहार में छठी क्लास से आठवीं क्लास तक के बच्चों के लिए 8 फरवरी से स्कूल खुल जाएंगे है।मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई क्राईसिस मैजमेंट ग्रुप की बैठक में ये फैसला लिया गया है।कोविड-19 महामारी की वजह से पिछले नौ महीने से बंद स्कूल बीते चार जनवरी से 9वीं से लेकर 12वीं तक के बच्चों के लिए पहले ही खोल दिया गया था।इसतरह से 8 फरवरी से बिहार के स्कूलों में कक्षा 8 से लेकर 12 वीं तक की पढ़ाई शुरू हो जाएगी।

सीनियर क्लास की तर्ज पर आना होगा स्कूल

8 फरवरी से 6क्लास से 8वें क्लास तक की पढ़ाई शुरू हो रही है।इन बच्चों को भी अपने सीनियर छात्रों की तरह ही मास्क लगाकार और सोशल डिस्टेसिंग के साथ पढ़ाई करवाने का निर्देश दिया गया है।सरकारी गाइडलाइन के अनुसार रोजाना स्कूल-कॉलेज में केवल 50 फ़ीसदी ही छात्रों की उपस्थिति होगी. जिसका मतलब है कि अगर किसी कक्षा में 50 छात्र हैं तो सोमवार को केवल 25 छात्र स्कूल आएंगे और बाकी 25 मंगलवार को स्कूल जा सकेंगे।

टीचर्स को नहीं मिलेगी छूट

छात्रों को भले ही 50 फीसदी उपस्थिति के साथ पढ़ाई करनी है लेकिन टीचर्स के लिए सरकार की तरफ से कोई छूट नही दी गई है।इसका मतलब ये है बच्चे भले ही आधे आयें,सभी शिक्षकों को स्कूल आना होगा और उन्हें क्लासेज पहले की तरह की लेने होंगे।

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में हुआ फैसला

मुख्य सचिव दीपक कुमार की अध्यक्षता में क्राईसिस मैजेमेंट ग्रुप की बैठक के बाद इस बात की जानकारी,शिक्षा विभाग के सचिव संजय कुमार ने दी।क्राईसिस मैनेजमेंट ग्रुप की इस बैठक में शिक्षा विभाग के साथ ही आपदा प्रबंधन विभाग,वित्त के अधिकारी भी मौजूद रहे।

8 फरवरी से करीब 12 लाख और बच्चें जाएंगे स्कूल

बिहार में तकरीबन 8,000 सरकारी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूल हैं जिसमें पढ़ने वाले छात्रों की संख्या 36 लाख से ज्यादा है।4 जनवरी से 18 लाख छात्रों को स्कूल जाने की इजाजत मिल चुकी है,आज हुए फैसले के बाद 12 लाख और छात्रों को स्कूल जाने की इजाजत सरकार ने दे दी है।