46 वर्ष से खपरैल में चल रही थी ओपी, ग्रामीणों ने चंदा कर जुटाए 16 लाख रुपए, फिर 7 माह में बनाया 10 कमरों का भवन

जो काम बिहार सरकार 46 वर्षों में नहीं कर सकी उसे तिलकेश्वर ओपी से जुड़े गांवों के लोगों ने मिलकर महज सात महीने में कर दिखाया। लोगों ने मकान विहीन तिलकेश्वर ओपी के लिए 10 कमरों वाले भवन का निर्माण करवा दिया। इसमें किचेन, हाजत के अलावा हर पदाधिकारी के लिए एक-एक कमरा है। इस भवन का उद्धाटन 26 जनवरी को प्रखंड प्रमुख बिजल पासवान ने फीता काट कर किया। इससे पूर्व भी ग्रामीणों के सहयोग से इस ओपी के लिए खपरैल का मकान बनाया गया था जो जर्जर स्थिति में हो गया है। भवन बनाने में 16 लाख खर्च हुए।

15 मई 2020 को भवन की नींव रखी गई थी

ग्रामीण रामकांत राय ने बताया कि खपरैलनुमा मकान जर्जर होने पर एसआई बालेन्दु मिश्रा से कैदी हाजत बनाने की बात हुई। लेकिन राय विचार होने पर ग्रामीणों ने भवन बनाने में सहयोग की बात कही। भवन बनाने के लिए चंदा एकत्रित किया गया।

तिलकेश्वर ओपी के दायरे में 46 गांव आते हैं

जल दस्यू पर नियंत्रण के लिए बिहार सरकार ने वर्ष 1974 में तिलकेश्वर ओपी की स्थापना की थी। दियारा का यह क्षेत्र जिले के सबसे सुदूरवर्ती होने के साथ साथ खगड़िया, सहरसा व समस्तीपुर का सीमावर्ती क्षेत्र है। इस ओपी के अंतर्गत 46 गांव हैं। शुरुआती दौर में इस क्षेत्र के जमींदार राजकिशोर सिंह के आवास पर कुछ दिनों तक ओपी का संचालन हुआ] फिर ग्रामीणों के सहयोग से खपरैल का मकान बनाया गया।

कुशेश्वरस्थान से तिलकेश्वर जाने के लिए सड़क नहीं
तिलकेश्वर ओपी कुशेश्वरस्थान थाना से 22 किलोमीटर दूर है। कुशेश्वरस्थान से तिलकेश्वर जाने के लिए फिलहाल अभी कोई सड़क नहीं है। एक सड़क का निर्माण चल रहा है। बाढ़ के समय में तीन से चार माह लोगों को आवागमन के लिए नाव का ही सहारा है।

रात भर कैदी की हथकड़ी पकड़े रहता था सिपाही

तिलकेश्वर ओपी प्रभारी अखिलेश कुमार ने बताया कि हाजत नहीं रहने से कैदी को कुशेश्वरस्थान थाना में जाकर रखना पड़ता था। रात होने पर कैदी को हथकड़ी लगाकर सिपाही पकड़े रहता था। आवागमन नहीं रहने से परेशानियों का सामना करना पड़ता था।

लोगों ने तिलकेश्वर ओपी को थाना बनाने की मांग की
उदघाटन के मौके पर राजेन्दर यादव, लक्ष्मण प्रसाद, खुसर मुखिया, सोहन राय, पंकज राय, राजीव राय, श्याम बिहारी राय, रामकुमार राय, शशि कुमार, सुकन यादव आदि लोगों ने सरकार से तिलकेश्वर ओपी को थाना बनाने की मांग की है।

Input- Bhaskar