दिल्ली हिंसा पर किसान नेता ने मांगी माफी, बोले- हम शर्मिंदा, 30 को रखेंगे उपवास

दिल्ली में ट्रैक्टर परेड के दौरान हुए हिंसा को लेकर किसान नेता युद्धवीर सिंह ने दिल्ली पुलिस से मांफी मांगी है. उन्होंने कहा कि वे इस हिंसा के लिए शर्मिंदा हैं और दिल्ली पुलिस से मांफी मांगते हैं.

किसान नेता युद्धवीर सिंह ने कहा कि गणतंत्र दिवस के दिन जो हुआ, वो शर्मनाक हुआ और हम शर्मिंदा भी हैं. कोई भी आंदोलन तभी सफल होता है जब दोनों तरफ से सहयोग किया जाए. उस दिन मैं गाजीपुर बॉर्डर के पास था, जो उपद्रवी वहां घुसे उसमें हमारे लोग शामिल नहीं थे. हमलोग इस हिंसा को लेकर निंदा कर रहे हैं.

इसके साथ ही किसान नेता युद्धवीर सिंह ने इस हिंसा को लेकर प्रायश्चित करते हुए 30 जनवरी को एक दिवसीय उपवास पर जाने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस भी हमारे भाई है और उनके साथ जिस तरह का बर्ताव हुआ है उसे लेकर हम दिल्ली पुलिस के जवानों से माफी मांगते हैं.

इसके साथ ही ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को देखते हुए किसान संगठनों ने अब एक फरवरी को निकलने वाले संसद मार्च को रद्द कर दिया है, जबकि 30 जनवरी को उपवास रखने की बात कही है.